अफगानिस्तान से लोगों को निकालने के लिए काबुल एयरपोर्ट एक बार फिर मंगलवार से खोल दिया गया है। सुरक्षा में गड़बड़ी के कारण बताने के बाद अमेरिकी बलों द्वारा कई घंटों तक एयरपोर्ट को बंद रखा गया था।

पेंटागन के ज्वाइंट चीफ ऑफ स्टाफ के लॉजिस्टिक विशेषज्ञ मेजर जनरल हैंक टेलर ने कहा कि एक सी-17 परिवहन विमान यूएस मरीन को लेकर एयरपोर्ट पर उतरा। इसके साथ दूसरे विमानों को भी आर्मी यूनिट के साथ उतरना है, जिससे एयरपोर्ट की सुरक्षा स्थापित करने में मदद मिल सकेगी।

टेलर ने बताया है कि अमेरिका सैन्य और वाणिज्यिक उड़ानों के लिए हामिद करजई अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट पर ‘हवाई यातायात नियंत्रण’ का प्रभारी था। काबुल में पहले से करीब 2,500 अमेरिकी सैनिक हैं, जो अमेरिकियों और अफगानों की मदद करते हैं, इसके अलावा अभी और सैनिक भेजे जा रहे हैं।

अमेरिकी जनरल ने समय के अनुसार सोमवार तक 3,000 से 3,500 सैनिकों के अफगानिस्तान पहुंचने की उम्मीद जताई जा रही है। तक होने की बात कही।

पेंटागन की ओर से कहा गया है कि रनवे पर लोगों की भीड़ बढ़ने के बाद सोमवार को एयरपोर्ट को बंद कर दिया गया था क्योंकि कई लोग अमेरिकी विमानों को बाधित करने की कोशिश कर रहे थे।

सेना के मेजर जनरल हैंक टेलर का कहना है कि बीते 72 घंटे के दौरान लगभग 2500 सैनिकों को काबुल में भेजा जा चुका है।

उनका कहना है कि अफगानिस्तान में हामिद करजई अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे को रेस्क्यू ऑपरेशन के लिए खोला गया है जिसके बाद पहला सी17 उतर चुका है वहीं इसके बाद अगला सी17 अब उतरने की तैयारी कर रहा है।

मेजर जनरल हैंक टेलर ने बताया कि वह लगातार अफगानिस्तान में हवाई क्षेत्र को खोले रखने का प्रयास जारी रखेंगे जिससे की वहां फंसे हुए उनके नागरिकों को सुरक्षित तरीके से बाहर निकाला जा सके और उड़ानों का परिचालन किया जा सके।

खबरों के मुताबिक अब तक काबुल से कम से कम दो अमेरिकी सी17 कार्गो जेट ने उड़ान भरी है और सोमवार की रात और इस सप्ताह के अंत में और अधिक उड़ानों की उम्मीद है।

अफगानिस्तान में 20 साल बाद वापस तालिबान के कब्जे से हजारों की संख्या में लोग देश छोड़कर भाग रहे हैं। इसी कारण काबुल एयरपोर्ट पर स्थिति भयावह हो चुकी है और सारे देश अपने राजनयिकों और नागरिकों को वहां से निकालने की कोशिश में जुटे हुए हैं।

Read More

  1. दिल्ली को मिली हाईटेक इलेक्ट्रिक फीडर बसों की सौगात
  2. राज्यसभा में हंगामा मामले पर बोले पीयूष गोयल, हो सख्त कार्रवाई
  3. 15 अगस्त को लेकर चाक चौबंद हुई सुरक्षा, नोएडा-दिल्ली के बीच लगा भीषण जाम
  4. संसद में हुआ हंगामा तो याद आईं सुषमा स्वराज, जानें क्यों?
  5. प्रधानमंत्री द्वारा जवाब न देने को तेजस्वी यादव ने नीतीश कुमार का बताया अपमान
  6. लाल किला से पीएम का ऐलान- देश मे लागू होगी गतिशक्ति योजना
  7. अफगानिस्तान के राष्ट्रपति अशरफ गनी ने माना- तालिबान के हाथों में अब अफगानिस्तान की बागडोर
  8. जानें सीएम नीतीश के किस ऐलान से खुश हुए बिहार के लोग?
  9. मांझी ने फिर गरमाया राजनीतिक माहौल, बताया कौन लहराएगा तिरंगा
  10. अगले कुछ दिनों में भारत में लॉंच होने वाले हैं यह स्मार्टफोन, देखें