विशेष

तय मानिए संसद सत्र खत्म होते ही कश्मीर में यह होना है!

कश्मीर इन दिनों सुर्खियों में है। सेना की बढ़ती आवाजाही ने राज्य के माहौल को गर्म कर दिया है। विपक्ष,कश्मीरी नेताओं,मीडिया सहित पूरे देश के मन मे एक ही सवाल है कि कश्मीर में इतनी बड़ी संख्या में सेना की तैनाती क्यों? क्या 35A और 370 को लेकर केंद्र सरकार कोई बड़ा फैसला लेने जा […]

राजनीति

बंगाल में दिखा राजनीति का धर्म नहीं, बस धर्म की राजनीति

राजनीति में सबसे बड़ी बात होती है जिससे समाज और देश का भला हो सकता है वह है राज करने की नीति और उसके धर्म का पालन लेकिन आज के समय में न नीति है, न नियत है, न मुद्दे हैं. देश लोकतंत्र के त्योहार का उत्साह मना रहा है. बड़े छोटे दलों ने लगभग […]

राजनीति

सोशल मीडिया पर मिल रही सलाह, किसे और क्यों दल बनायें उम्मीदवार

राजनीति में इति या अंत नाम कि शब्दावली का कोई प्रयोग नहीं है। हिंदी से लेकर ऑक्सफ़ोर्ड तक कि डिक्शनरी आप पलट लीजिए लेकिन उसमें कोई ऐसा शब्द नही जो भारतीय लोकतंत्र को समझा सके। ऐसा इसलिए नही कि डिक्शनरी लिखने वालों की जानकारी कम है बल्कि ऐसा इसलिए है क्योंकि यहां लोकतंत्र का मतलब […]

राजनीति विशेष

बीजेपी में जाति,धर्म और गठबंधन से टूटी टिकट की आस, जनता के लिए भी क्या यही होंगे खास?

लोकसभा चुनावों की रणभेरी बज चुकी है। आज की व्यवस्था में बदलाव होगा या यही व्यवस्था पांच साल और चलेगी यह तो आने वाले चुनाव परिणाम बताएंगे। हालांकि इन सब के बीच जिस तरह जाति, धर्म और दल देखकर वोट देने की परंपरा का निर्वाहन करने की तैयारी दिख रही है उससे तो यही स्पष्ट […]

राजनीति

पढ़ें मनोहर पर्रिकर के निधन पर किसने क्या कहा

छोटे से राज्य के बड़े बेदाग नेता मनोहर पर्रिकर का निधन हो गया। राजनीति की कलंकित काल कोठरी में भी सफेद रहने वाले मनोहर मन और छवि वाले पर्रिकर को नमन। आपका योगदान अतुलनीय है, आपकी सादगी, आपकी ईमानदारी आने वाले वक्त में मिसाल होगी। सादर श्रद्धांजलि। पढ़ें मनोहर पर्रिकर के निधन पर किसने क्या […]

राजनीति विशेष

मनोहर पर्रिकर को क्यों राजनीति में रोल मॉडल माना जाना चाहिए, पढ़ें कुछ खास

गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर का आज लंबी बीमारी के बाद निधन हो गया। वह 63 साल के थे। फरवरी 2018 में बीमारी का पता चलने के बाद उन्होंने गोवा, मुंबई, दिल्ली और न्यूयॉर्क के अस्पतालों में इलाज कराया था। आखिरकार वह 17 मार्च को वे जिंदगी की जंग हार गए। छोटे से राज्य के बड़े बेदाग […]

राजनीति

चुनावों से पहले जान लें क्या है आचार संहिता और क्या हैं इसके मायने ?

चुनाव आचार संहिता (आदर्श आचार संहिता/आचार संहिता) का मतलब है चुनाव आयोग के वे निर्देश जिनका पालन चुनाव खत्म होने तक हर पार्टी और उसके उम्मीदवार को करना होता है। अगर कोई उम्मीदवार इन नियमों का पालन नहीं करता तो चुनाव आयोग उसके ख़िलाफ़ कार्रवाई कर सकता है, उसे चुनाव लड़ने से रोका जा सकता […]

राजनीति विशेष

#AirStrike इस बार इंटरनेशनल प्रेशर न पाला तभी सिर्फ 21 मिनट में पाकिस्तान हिला डाला

125 करोड़ की आबादी वाले भारत के सामने दुनिया की हर महाशक्ति सर झुकाए, हाथ जोड़े खड़े हो गई। शायद इसलिए कहते हैं एकता में बल है।