भारतीय विंग कमांडर अभिनंदन को पाकिस्तान ने भारत से ताल्लुख अच्छे करने के लिए नहीं बल्कि भारत के हमले के दर से छोड़ा था. यह बात पाकिस्तानी संसद नेशनल असेंबली में खड़े होकर पाकिस्तान मुस्लिम लीग-एन (पीएमएल-एन) के नेता अयाज़ सादिक ने कही है.

अयाज़ सादिक ने पाकिस्तान असेंबली में बताया की अभिनंदन को लेकर कैसा पाकिस्तान की सरकार ही नहीं बल्कि पाकिस्तान के सेना प्रमुख कमर जावेद बाजवा भी डरे हुए थे और उनके पैर कांप रहे थे और उनके पसीने निकल रहे थे. यही नहीं, पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी अभिनन्दन को छोड़ने की दुहाई दे रहे थे.

पाकिस्तानी संसद नेशनल असेंबली में अयाज़ सादिक ने कहा “मुझे याद है शाह महमूद कुरैशी साहब उस मीटिंग में थे. जिसमें प्राइम मिनिस्टर साहब ने आने से इंकार कर दिया था. चीफ ऑफ़ आर्मी स्टाफ तशरीफ़ लाये। पैर काँप रहे थे, पसीने माथे पर थे. हमसे शाह महमूद कुरैशी साहब ने कहा खुदा का वास्ता है अभिनंदन को वापिस जाने दे क्यूंकि रात को 9 बजे हिंदुस्तान पाकिस्तान पर अटैक कर रहा है.”

पाकिस्तान के अखबार ‘दूनिया न्यूज’ की एक खबर के मुताबिक विपक्षी दलों ने सरकार को साफ़ कर दिया है की अभिनंदन के मसले पर तो उन्होंने सरकार का साथ दे दिया मगर इस तरह के मसलो पर सरकार अब उनसे किसी तरह के समर्थन की उम्मीद न करे.

वही दूसरी तरफ बीजेपी के प्रवक्ता संबित पात्रा ने अयाज़ सादिक के इस बयान को ट्वीट करते हुए राहुल गांधी पर हमला किया है और लिखा है “राहुल जी, आप Surgical Strike औरAir Strike पर सवाल उठा रहे थे ना? ज़रा देखिए मोदी जी का क्या ख़ौफ़ है पाकिस्तान में सरदार अयाज़ सादिक़ बोल रहे है पाकिस्तान के National Assembly में की Pak के Cheif of Army Staff के पैर काँप रहे थे और चेहरे पर पसीना था,कहीं भारत अटैक न कर दे! समझें?”

कंगाली के दौर से गुजर रहा है पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड, खिलाड़ियों के कोरोना टेस्ट करवाने के नहीं है पैसे

भारत मे कोरोना के बढ़ते कहर के बीच WHO ने की पाकिस्तान की तारीफ, जानें वह दो राज जिनकी मदद से सफल हुआ पाकिस्तान