महाराष्ट्र एटीएस और मुंबई पुलिस की अपराध शाखा की संयुक्त टीम ने पाकिस्तान समर्थित आतंकवादी मॉड्यूल से जुड़े एक और संदिग्ध आतंकी को मुंबई के जोगेश्वरी इलाके से पकड़ा है। गिरफ्तार आतंकी का नाम जाकिर बताया जा रहा है जिसने पूछताछ में कई बड़े खुलासे किए हैं। इसे देखते हुए मुंबई में सुरक्षा व्यवस्‍था सख्‍त कर दी गई है।

 जाकिर के तार जान मोहम्मद से जुड़े पाए गए हैं। जान को दिल्ली पुलिस पहले ही गिरफ्तार कर चुकी है। इस गिरफ्तारी को महाराष्‍ट्र एटीएस के लिए बड़ी सफलता माना जा रहा है। महाराष्ट्र एटीएस ने बताया कि जाकिर ने गिरफ्तार आतंकी जान मोहम्मद उर्फ समीर कालिया को मुंबई में हथियार और विस्फोटक लाने को कहा था।

पुलिस के मुताबिक गिरफ्तार आतंकवादियों में से 2 ने पाकिस्तान में ट्रेनिंग भी ली थी। इनके पास से विस्फोटकों के साथ ही अन्य हथियार भी बरामद हुए हैं। इस भंडाफोड़ की शुरुआत दिल्ली पुलिस द्वारा की गई जिसके बाद आतंकी मॉड्यूल के सिलसिले में शहर के जोगेश्वरी इलाके से इस व्यक्ति को महाराष्ट्र एटीएस और मुंबई पुलिस की क्राइम ब्रांच की संयुक्त टीम ने हिरासत में ले लिया।

देश में बढ़ते आतंकी गतिविधियों के मद्देनजर दिल्ली पुलिस की स्‍पेशल सेल ने बीते मंगलवार,14 सितंबर को पाकिस्तान-संगठित आतंकी मॉड्यूल का भंडाफोड़ कर, पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई द्वारा प्रशिक्षित आतंकवादियों समेत 6 लोगों को गिरफ्तार किया था जो देश में आगामी त्योहारों के दौरान कई विस्फोट करने की योजना बना रहे थे।

पुलिस ने बताया कि पाकिस्तान स्थित अनीस इब्राहिम, जो दाऊद इब्राहिम का भाई है, आतंकी योजना को अंजाम देने के लिए अंडरवर्ल्ड के गुर्गों से जुड़ा था। पूछताछ में पता चला कि पाकिस्तान के आतंकी मॉड्यूल को दो घटकों अंडरवर्ल्ड और पाक-आईएसआई प्रशिक्षित आतंकी मॉड्यूल के माध्यम से संचालित किया जा रहा था।

आरोपियों की पहचान जान मोहम्मद शेख (47) उर्फ समीर, ओसामा (22), मूलचंद (47), जीशान कमर (28), मोहम्मद अबु बकर (23) और मोहम्मद आमिर जावेद (31) के तौर पर हुई  जिन्हें दिल्ली और उत्तर प्रदेश के कुछ हिस्सों में छापेमारी के बाद गिरफ्तार किया गया था।

इसी के साथ उत्तर प्रदेश पुलिस के आतंकवाद रोधी दस्ते (एटीएस) ने भी मंगलवार को पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई द्वारा प्रायोजित मॉड्यूल को ध्वस्त करते हुए तीन लोगों को हिरासत में लिया था।