अमरीका के राष्ट्रपति चुनाव भी ‘Metoo’ से अछूता नहीं रहा है. पूर्व मॉडल एमी डोरिस ने अमरीका के राष्ट्रपति और रिपब्लिकन पार्टी के उमीदवार डोनाल्ड ट्रम्प पर यौन शोषण के आरोप लगाकर अमरीकी चुनाव में हलचल पैदा कर दी है. एमी डोरिस के अनुसार 1997 में टेनिस के एक टूर्नामेंट यूएस ओपन के दौरान डोनाल्ड ट्रम्प ने उनके साथ इस घटना को अंजाम दिया था.

ब्रिटेन के अखबार The Guardian को दिए एक इंटरव्यू में एमी ने बताया की वह उस वक़्त वीआईपी बॉक्स में बैठी थी. ट्रम्प वहाँ आये और उन्होंने मुझे अपनी बांहो में जकड़ लिया और जबरन किस करने लगे. यही नहीं, उन्होंने मेरे विरोध करने के बादजूद मेरे निजी अंगो को छुआ. मैंने उन्हें धक्का देकर अपने आपको बचाया. वहीँ दूसरी और ट्रम्प के वकीलों ने इस आरोप को सिरे से नाकर दिया है. उनका कहना है की डोनाल्ड ट्रम्प दूसरी बात राष्ट्रपति पद के लिए खड़े हो रहे है इसलिए विपक्ष ने उनकी छवि को खराब करने के लिए ये झूठा मामला बनाया है. यही नहीं, उन्होंने एमी के आरोप लगाने के समय के ऊपर भी सवाल उठाया है.

एमी से जब The Guardian ने पूछा की वह इस मामले को पहले सामने लेकर क्यों नहीं आयी. तो इसपर एमी ने कहा की वह 2016 में भी इस घटना के बारे में बताना चाहती थी मगर परिवार की सुरक्षा को लेकर डर गई थी. जिस वक़्त एमी के साथ ये घटना घटी उस वक़्त वह महज 24 साल की थी.

आपको बतादें की यह पहला मौका नहीं है जब राष्ट्रपति ट्रम्प पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगा हो. करीब एक दर्जन से ज्यादा बार उनपर इस तरह के आरोप लग चुके है. इन आरोपों को लगाने वालो की लिस्ट में अमेरिका की एक शीर्ष कॉलमिस्‍ट ई जीन केरोल का नाम भी शामिल हैं. उन्होंने ट्रम्प पर सीधे-सीधे- उनके साथ बलात्कार करने का आरोप लगाया था.