बिहार का बाँका जिला मानो शराब तस्करों का गढ़ बन गया है। राज्य में पूर्ण शराबबंदी के बाद से झारखंड से सटे इस जिले के मार्गों से लगातार शराब का बरामद होने तो कुछ इसी तरफ इशारा करता है। आज एक बार फिर बिहार के बाँका जिले की बौंसी थाना पुलिस ने बड़ी संख्या में शराब बरामद किया है। शराब की यह खेप झारखंड से बिहार लाई जा रही थी।


पुलिस सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक सूचना के आधार पर भागलपुर-दुमका रोड पर श्याम बाजार के समीप एक एंबुलेंस को रोक कर तलाशी ली गयी। तलाशी के दौरान एंबुलेंस से 510 बोतल विदेशी शराब बरामद की गयी। सूत्रों ने बताया कि इस सिलसिले में तीन तस्करों को गिरफ्तार किया गया है।

तस्करों की पहचान भागलपुर जिले जगदीशपुर थाना क्षेत्र के बैजनी गांव निवासी चितरंजन पाण्डेय, इशाकचक थाना के इशाकचक निवासी गौतम कुमार और संदीप कुमार के रूप में की गयी है।

गौरतलब है कि बिहार में शराबबंदी 2016 से लागू है लेकिन शायद ही इस ड्राई स्टेट में कोई दिन ऐसा गुजरता है जिस दिन अवैध शराब की बरामदगी की बात सामने नही आती है। इसके लिए राज्य सरकार सख्त कानून की बात भी दोहराती रही है, डेढ़ लाख से ज्यादा लोगों पर 2019 तक इस मामले में मुकदमे दर्ज किए गए थे लेकिन ऐसा लगता नही है कि शराब के इन अवैध कारोबारियों के मन मे कोई कानूनी भय है। अगर भय है इसके बावजूद बड़ी संख्या में शराब रोज कैसे बरामद हो रही है?