कांग्रेस प्रवक्ता राजीव त्यागी का निधन हो गया है. राजीव त्यागी की तबीयत अचानक खराब हो गई थी. ख़बरों  के मुताबिक राजीव त्यागी की तबीयत आज दिन भर ठीक थी. शाम को आजतक पर वे डिबेट में शामिल हुए थे. घर में अचानक उनकी तबीयत बिगड़ गई और वे बेहोश हो गए. बेहोशी की हालत में उन्हें यशोदा अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया.  

राजीव त्यागी के निधन से कांग्रेस में शोक की लहर है. कांग्रेस के ऑफिसियल ट्विटर हैंडल से उनके निधन पर शोक व्यक्त करते हुए लिखा गया, “राजीव त्यागी के अचानक निधन से हम सभी बेहद दुखी हैं, वे एक पक्के कांग्रेसी और सच्चे देशभक्त थे, इस दुख की घड़ी में हमारी संवेदनाएं और प्रार्थनाएं परिवार के साथ है.

इसके अलावा पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी ने अपने शोक सन्देश में कहा कि कांग्रेस ने आज अपना बब्बर शेर खो दिया.राजीव त्यागी के कांग्रेस प्रेम व संघर्ष की प्रेरणा हमेशा याद रहेंगे.उन्हें मेरी भावभीनी श्रद्धांजलि और परिवार को संवेदनाएं.

राजीव के निधन पर शोक व्यक्त करते हुए कांग्रेस महासचिव प्रियंका गाँधी ने लिखा कि भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के प्रवक्ता श्री राजीव त्यागी जी की असामयिक मृत्यु मेरे लिए एक व्यक्तिगत दुःख है.हम सबके लिए अपूर्णीय क्षति है.राजीव जी विचारधारा समर्पित योद्धा थे.समस्त यूपी कांग्रेस की ओर से परिजनों को हृदय से संवेदनाईश्वर उनके परिवार को दुख सहने की शक्ति दें.

उनके निधन पर संबित पात्रा ने दुःख व्यक्त करते हुए लिखा कि  विश्वास नहीं हो रहा है कंग्रेस के प्रवक्ता मेरे मित्र श्री राजीव त्यागी हमारे साथ नहीं है.आज 5 बजे हम दोनो ने साथ में आजतक पर डिबेट भी किया था . जीवन बहुत ही अनिश्चित है …अभी भी शब्द नहीं मिल रहे.हे गोविंद राजीव जी को अपने श्री चरणो में स्थान देना.

राजीव के आकस्मिक निधन पर कवि और उनके पडोसी कुमार विश्वास ने लिखा कि हे गिरधारी, हे महाकाल क्या कर रहे हो? मेरे बेहद प्यारे पड़ोसी और शालीन इंसान राजीव त्यागी की मृत्यु? ऐसे मिलनसार और मनोहर राजनीतिज्ञ को हार्ट-अटैक?अभी हफ़्ते भर पहले तो मुझे कॉल करके अपने बाग के आम भिजवाए थे राजीव ने, तय हुआ था कि जल्दी घर चाय पीने आओगे.अब बस भी कर ईश्वर.