बिहार विधानसभा चुनावों के प्रचार का दौर उफान पर है। नेता अपने उम्मीदवारों को जिताने के लिए धुंआधार रैलियां कर रहे हैं। किसी भी तरह से कोई पीछे नही रहना चाहता है। आलम यह है कि एक दिन में 13 रैलियां तक आयोजित की जा रही हैं। हालांकि इन्ही रैलियों में से एक के दौरान आज एक हादसा हो गया।

दरअसल जनअधिकार पार्टी के अध्यक्ष पप्पू यादव मुज़्ज़फरपुर के मीनापुर में एक जनसभा को संबोधित करने पहुंचे थे। इस दौरान भीड़ देख पप्पू काफी उत्साहित भी नजर आ रहे थे। हालांकि जब वह माइक पकड़ विरोधियों पर हमलावर थे उसी दौरान मंच टूट गया। इस घटना में पप्पू यादव समेत कई कार्यकर्ता घायल हो गए।

इस घटना के लिए पप्पू यादव ने स्थानीय प्रशासन की लापरवाही को जिम्मेदार बताया है। एक फेसबुक पोस्ट के माध्यम से पप्पू ने लिखा,’प्रशासन की लापरवाही के कारण भले ही हमारा हाथ टूट गया हो लेकिन बिहार की जनता को उसका अधिकार दिलाने का हमारा इरादा दृढ़ था, है और रहेगा।

"पसीने की स्याही से जो लिखते हैं इरादें को, उसके मुक्कद्दर के सफ़ेद पन्ने कभी कोरे नही होते" हम तो पहले ही अपनी ज़िंदगी…

Posted by Rajesh Ranjan on Saturday, 31 October 2020

पप्पू ने अपने एक दूसरे पोस्ट में लिखा,’मीनापुर विधानसभा (मुजफ्फरपुर) में वीना देवी जी की सभा को संबोधित करते वक्‍त थोड़ी सी अप्रिय घटना हुई। मैं घायल भी हो गया। मगर आपके लिए मैं फिर से उठ खड़ा हुआ हूं। आप तक पहुंचना मेरा लक्ष्‍य है, क्‍योंकि ये नाता सिर्फ चुनाव का नहीं है। आपको भी पता है मैं आपके हर दुख दर्द में आपके पास आता हूं। आज आपकी उम्‍मीदों की वजह से दर्द के बावजूद तय कार्यक्रम के अनुसार, सबों से मिलूंगा।’