बिहार चुनाव में पहले दौर के लिए बीते 28 अक्टूबर को 71 सीटों के लिए वोटिंग हुई थी।  अब 3 नवंबर को दूसरे चरण के लिए मतदान होना है. इसमें 17 जिलों की 94 सीटों पर चुनाव होंगे। सभी पार्टियां दूसरे चरण के चुनाव के लिए तैयारियां कर रही है.

इसी बीच दूसरे चरण के मतदान से ठीक पहले आरक्षण जैसे संवेदनशील मुद्दे पर नितीश कुमार का बयान आया है जिससे बिहार की राजनीति में उबाल आना तय है. वाल्मीकि इलाके में एक चुनावी सभा को सम्भोदित करते हुए नितीश कुमार ने कहा की आबादी के हिसाब से लोगों को आरक्षण मिलना चाहिए. जिसकी जितनी आबादी उतना आरक्षण.

चुनावी रैली को सम्भोधित करते हुए नितीश कुमार ने कहा ”जनगणना हम लोगों के हाथ में नहीं है. लेकिन हम चाहेंगे कि जितनी लोगों की आबादी है, उस हिसाब से लोगों को आरक्षण मिले. इसमें हमारी कोई दो राय नहीं है.”

हालांकि NDA की तरफ से नितीश कुमार के इस बयान पर कोई आधिकारिक बयान नहीं आया है. वहीँ विपक्ष को बैठ-बिठाये चुनावी मौसम में एक मुद्दा हाथ लग गया है. विपक्षी पार्टियां चुनाव में इस बयान को भुनाने की पूरी कोशिश करेंगी. 

मुंगेर हिंसा पर कांग्रेस ने सीएम नीतीश को घेरा,कहा- बिहार को अराजकता की आग में झोंक दिया, पढ़ें

बिहार चुनाव-पहले चरण में 53.54 फीसदी मतदान, सबसे आगे रहा बांका, देखें हर सीट पर मतदान का हाल

बिहार चुनाव: चिराग ने नितीश को कहा महिसासुर, कहा महिसासुरी व्यवस्था का वध भक्त 10 तारीख़ को करेंगे