बिहार विधानसभा चुनावों के लिए आज महागठबंधन की तरफ से संकल्प पत्र जारी कर दिया गया है। पटना के एक होटल में आयोजित प्रेस कॉन्फ्रेंस में यह संकल्प पत्र राजद नेता तेजस्वी यादव, कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला और शक्ति सिंह गोहिल सहित कई अन्य वरिष्ठ नेताओं की मौजूदगी के बीच जारी किया गया। इस संकल्प पत्र में जनता से वादों की एक लंबी लिस्ट है। इस अवसर पर तेजस्वी यादव ने राज्य की एनडीए सरकार पर जमकर हमला बोला है।


तेजस्वी ने संकल्प पत्र जारी करते हुए कहा कि एनडीए के नेता कहते हैं बिहार में डबल इंजन की सरकार है लेकिन आज तक इसके बावजूद बिहार को विशेष राज्य का दर्जा नही दिल सके। उन्होंने यह सवाल भी पूछा कि क्या बिहार को विशेष राज्य का दर्जा देने अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प बिहार आएंगे?

बेरोजगारी को बड़ी समस्या बताते हुए तेजस्वी ने फिर कहा कि राज्य में महागठबंधन की सरकार बनते ही पहली कैबिनेट बैठक में दस लाख लोगों को रोजगार मुहैया करायेंगे।


वहीं इसी प्रेस कॉन्फ्रेंस में मौजूद कांग्रेस नेता और प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने एनडीए गठबंधन और सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि नयी दिशा बनाम दुर्दशा, नया रास्ता बनाम हिन्दू-मुसलमान, नयी तरूणाई बनाम फेल तजुर्बे तथा खुद्दारी बनाम नफरत’ के बीच का है।

उन्होंने नीतीश कुमार पर बिहार की जनता को धोखा देने का आरोप भी लगाया।उन्होंने हाल ही में बनाये गए तीन कृषि कानूनों के मुद्दे को उठाते हुए कहा कि अगर हमारी सरकार बनी तो पहली कैबिनेट बैठक में हम इन कानूनों के खिलाफ प्रस्ताव पास करेंगे।