कोरोना महामारी के अचानक केरल और महाराष्ट्र राज्यों में बढ़ते मामलों ने चिंता बढ़ा दी है। गुरुवार को मुंबई के सेंट जोसेफ बोर्डिंग स्कूल के 15 छात्र कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। वहीं 7 अन्य भी वायरस की चपेट में हैं जिनमें से चार बच्चों की उम्र 12 साल से भी कम बताई जा रही है।

मुंबई के अग्रीपाड़ा इलाके में स्थित सेंट जोसेफ बोर्डिंग स्कूल में कुल 22 बच्चे कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। जानकारी के मुताबिक अब तक कुल 95 स्टूडेंट्स का परीक्षण किया गया, जिनमें से 22 कोरोना वायरस की चपेट में हैं। मामले के बाद इलाके में हड़कंप मचा हुआ है।

जानकारी के मुताबिक 12 साल से कम उम्र के 4 बच्चों को नायर अस्पताल, बाल चिकित्सा वार्ड में स्थानांतरित कर दिया गया है, वहीं 12-18 आयु वर्ग के 11 बच्चों को रिचर्डसन और क्रुडास कोविड-19 वार्ड में स्थानांतरित किया गया है, इसके अलावा 7 अन्य को भी कोविड वार्ड में स्थानांतरित कर दिया गया है। बचाव की दृष्टि से बीएमसी ने पूरे सेंट जोसेफ बोर्डिंग स्कूल को पूरी तरह सील कर दिया है।

बता दें कि महाराष्ट्र में अभी भी हालात ज्यादा सुधरे हुए नहीं हैं। कोरोना से अधिक प्रभावित चार राज्यों में महाराष्ट्र, कर्नाटक, तमिलनाडु और आंध्र प्रदेश शामिल हैं जिनमें कोविड के एक्टिव केस लगातार बढ़ते हुए देखे जा रहे हैं।

महाराष्ट्र में डेल्टा प्लस वेरिएंट के भी लगातार मामले सामने आ रहे हैं। राज्य में डेल्टा प्लस के अब तक 103 मामलों की पुष्टि हुई है। वैज्ञानिकों के अनुसार कोरोना की तीसरी लहर बच्चों के लिए अधिक घातक साबित होने वाली है।

Read More

  1. हरीश रावत बोले-अमरिंदर सिंह के चेहरे पर कांग्रेस लड़ेगी पंजाब चुनाव
  2. नेशनल मोनेटाइजेशन प्लान को लेकर मचा रार- राहुल के बयान अपर निर्मला का पलटवार
  3. सितंबर में खुल सकते हैं दिल्ली के स्कूल
  4. चिराग पासवान पर दर्ज हुई एफआईआर, जानें पूरा मामला
  5. एक बार फिर राहुल पर भड़कीं स्मृति ईरानी, जानें वजह
  6. सीडीएस विपिन रावत बोले- तैयार है तालिबान से निपटने का प्लान
  7. दिल्ली सरकार की योजना ‘देश के मेंटर्स’ के ब्रांड एम्बेसडर बने सोनू सूद, सीएम केजरीवाल ने दी जानकारी