मध्यप्रदेश की 28 विधानसभा सीटों पर आज उपचुनाव समाप्त हो गए। हालांकि कांग्रेस और बीजेपी के बीच जारी तल्खी और जुबानी जंग अब भी जारी है। मतदान समाप्त होने के बाद जहां सीएम शिवराज ने जीत का दम्भ भरा वहीं कमलनाथ भी कांग्रेस उम्मीदवारों की जीत कोलेकर आश्वस्त नजर आए और जमकर बीजेपी पर निशाना साधा है।

कमलनाथ ने मीडिया से बातचीत में कहा,’ये चुनाव सच्चाई और झूठ का था। भाजपा की जो राजनीति है जिस प्रकार उन्होंने जनता को गुमराह करने का प्रयास किया। हमारे मतदाताओं ने ये पूरी बात समझी। मतदान का प्रतिशत वोट डालने के उत्साह को दर्शाता है। मुझे विश्वास है कि 10 तारीख को म.प्र. की आवाज पूरे देश में गूंजेगी।’

बीजेपी पर पैसा और शराब के साथ पुलिस प्रशासन के दुरुपयोग का आरोप लगाते हुए उन्होंने कहा,’पिछले तीन दिनों में पैसा, प्रशासन, शराब, पुलिस का प्रयोग किया है। भाजपा नेता बिकाऊ थे मतदाता बिकाऊ नहीं है। ये स्पष्ट करता है कि भाजपा बौखलाई हुई है। हमने चुनाव आयोग से मेहगांव और सुमावली में दोबारा मतदान की मांग की है।’

उन्होंने बड़ा और अहम् बयान देते हुए कहा,’10 तारीख के बाद सिंधिया जी आरोप लगाएंगे कि हम जो हारे हैं वो भाजपा की वजह से हारे हैं और भाजपा कहेगी कि जहां हम हारे हैं हम सिंधिया जी के कारण हारे है।

वही उपचुनाव में मतदान की समाप्ति के बाद मध्यप्रदेश के सीएम शिवराज सिंह चौहान ने मीडिया से बातचीत में कहा,’जनता ने उत्साहपूर्वक बढ़ चढ़कर उप चुनाव में भाग लिया। बंपर वोटिंग हुई है। जनता ने लोकतंत्र में विश्वास व्यक्त करते हुए मतदान को अपना पवित्र कर्तव्य माना है। कुछ स्थानों पर 2018 से ज्यादा वोटिंग हुई है। जितनी बंपर वोटिंग हुई है उतनी बंपर हमारी जीत होगी।’

शिवराज के अलावा एमपी के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने दिग्विजय सिंह के ट्वीट पर पलटवार करते हुए कहा,’जब दिग्विजय सिंह जी कहें EVM में गड़बड़ी है और पुनः मतदान की जरूरत है। जब वो कहें की प्रशासनिक मशीनरी का दुरुपयोग हुआ  है तो मान लेना चाहिए कि भाजपा जीत रही है और ये बहाने ढूंढ रहे हैं।’ 

आपको बता दें कि दिग्विजय सिंह ने एक ट्वीट में कहा था कि,’तकनीकी युग में विकसित देश EVM पर भरोसा नहीं करते पर भारत व कुछ छोटे देशों में EVM से चुनाव होते हैं। विकसित देश क्यों नहीं कराते? क्योंकि उन्हें EVM पर भरोसा नहीं है। क्यों? क्योंकि जिसमें चिप है वह हैक हो सकती है।’

एमपी- कांग्रेस एमएलए ने दिया इस्तीफा, बीजेपी में हुए शामिल

एमपी उपचुनाव: ‘बोली’ के बाद ‘गोलीकांड’ में फंसे एमपी के मंत्री बिसाहूलाल सिंह, कांग्रेस ने शेयर किया वीडियो

कमलनाथ ने पूछा- मैंने क्या पाप किया, शिवराज बोले कितने बताऊं?

कमलनाथ ने किया संविदा कर्मियों को नियमित करने का वादा, बीजेपी बोली-जनता को प्रलोभन देकर छलने का प्रयास