जिस दिन भारत में एक ही दिन में सबसे अधिक लगभग 75,000 लोग ठीक (रिकवर) हुए उसी दिन एक दिन में रिकॉर्ड नमूनों की जांच भी हुई। पिछले 24 घंटों में 11.5 लाख से अधिक कोविड 19 नमूनों की जांच की गई।

भारत उन चुनिंदा देशों में से एक है, जहां पर दैनिक जांच की दर बहुत अधिक है। दैनिक परीक्षण क्षमता पहले ही 11 लाख को पार कर चुकी है। पिछले 24 घंटों में 11,54,549 नमूनों की जांच की गई जिसके साथ ही भारत ने जांच की राष्ट्रीय नैदानिक क्षमता को और मजबूत किया है।

इस उपलब्धि के साथ ही अभी तक कुल 5.18 करोड़ (5,18,04,677) से अधिक नमूनों की जांच हो चुकी है।

देश-व्यापी परीक्षण के उच्च स्तरों के माध्यम से अस्पताल में भर्ती करने और समय पर उचित उपचार के मूल्यवान अवसर प्रदान हुए हैं। इसने मृत्यु दर में कमी (1.69% आज) आई है और ठीक होने वालों की संख्या बढ़ी है

जांच करने के विभिन्न उपायों के माध्यम से देश भर में आसानी से जांच का विस्तारित डायग्नोस्टिक लैब नेटवर्क उपलब्ध हुआ है और इस सुविधा ने जांच को पर्याप्त बढ़ावा दिया है। इस उपलब्धि के आधार पर, प्रति मिलियन टेस्ट (टीपीएम) में 37,539 की तेज वृद्धि हुई है। यह ग्राफ निरंतर ऊपर की तरफ बढ़ता जा रहा है।

जनवरी 2020 में पुणे में एक जांच प्रयोगशाला से शुरू होकर आज देश 1678 प्रयोगशालाएं काम करही है जिसमें सरकारी क्षेत्र की 1040 प्रयोगशालाएं और 638 निजी प्रयोगशालाएं शामिल हैं: