बिहार चुनाव के प्रचार-प्रसार का आज अंतिम दिन है या कहे आज चुनाव का शोर थम जायेगा. 7 तारीख को तीसरे चरण में 15 जिलों की 78 सीटों के लिए मतदान होगा. सभी दिग्गज नेता चाहेंगे की आज अपनी पूरी ताकत झोंक दी जाए. इसलिए ज्यादा से ज्यादा रैलियां और रोड शो करके जनता को तक पहुंचना चाहते है.

इसी क्रम में बेनीपट्टी विधानसभा सीट से NDA विनोद नारायण झा के लिए केंद्रीय मंत्री अश्वनी कुमार चौबे और भोजपुरी के सुपरस्टार दिनेश पाल यादव उर्फ़ निरहुआ पहुंचे. मगर इस रैली में नेताओं की बोली नहीं बल्कि पुलिस की लाठियां और समर्थकों की कुर्सियां चली.

दरअसल अश्वनी चौबे और निरहुआ अपने तय समय से रैली के लिए 3 घंटे देरी से पहुंचे जिस कारण भीड़ भीड़ के सब्र का बाँध टूट गया. जिसके बाद लोगों ने मंच के सामने लगे बेरिकेड्स को तोड़ दिया। सुरक्षा में तैनात पुलिसवालों ने लोगों को हटाने के लिए जमकर लाठियां चलाई. गुस्से भीड़ ने भी पुलिस वालों पर जमकर कुर्सियां फेंकी.

सभा को सम्भोदित करते हुए निरहुआ ने कहा की लोग अक्सर मेरे राजनीति में आने का का कारण जानना चाहते है. मैं तो गरीब रिक्शेवाला हूँ. हेलीकाप्टर में चढ़ने की औकात नहीं है मेरी. वो तो मैं आपके प्यार की बदौलत मैं हेलीकॉप्टर में यहाँ पहुँच पाया हूँ. उन्होंने कहा की माता सीता की धरती पर आकर हम धन्य हो गए.

निरहुआ ने आगे कहा की प्रदेश का विकास हो रहा है मगर फिर भी लोग जाती के नाम पर वोट मांग रहे है. क्या हम जंगलराज की और लौटना चाहते है. निरहुआ ने बिना नाम लिए महागठबंधन की ओर निशाना साधा. 

बिहार चुनाव: NDA ने किसानों के लिए जितना किया और कर रहा है, उतना किसी ने कभी नहीं किया- प्रधानमंत्री मोदी

बिहार चुनाव: बीजेपी प्रवक्ता राजीव प्रताप रूडी ने तेजस्वी-राहुल की जोड़ी को बताया ‘पिग्गी राइड’