“हम तैयार हैं…”: सैनिकों की भिड़ंत के हफ्तों बाद भारत के साथ संबंधों पर चीन बोला

चीनी विदेश मंत्रालय की वेबसाइट के अनुसार, चीनी विदेश मंत्री वांग यी ने रविवार को कहा कि चीन संबंधों के स्थिर और मजबूत विकास के माध्यम से भारत के साथ काम करने के लिए तैयार हैं।

चीनी विदेश मंत्रालय की वेबसाइट के अनुसार, चीनी विदेश मंत्री वांग यी ने रविवार को कहा कि चीन संबंधों के स्थिर और मजबूत विकास के माध्यम से भारत के साथ काम करने के लिए तैयार हैं।

भारत के साथ चीन के संबंधों पर संवाददाताओं को संबोधित करते हुए वांग ने कहा, “चीन और भारत ने राजनयिक और सैन्य-से-सैन्य चैनलों के माध्यम से संचार बनाए रखा है, और दोनों देश सीमावर्ती क्षेत्रों में स्थिरता बनाए रखने के लिए प्रतिबद्ध हैं।

हम चीन-भारत संबंधों के स्थिर और मजबूत विकास की दिशा में भारत के साथ काम करने के लिए तैयार हैं।” यह बयान अरुणाचल प्रदेश के तवांग सेक्टर में भारतीय और चीनी सैनिकों के बीच 9 दिसंबर को हुए आमने-सामने की पृष्ठभूमि में आया हैं।

झड़प के बाद, विदेश मंत्रालय (MEA) ने एक बयान में कहा कि भारत और चीन ने 20 दिसंबर को चुशूल-मोल्दो सीमा बैठक बिंदु पर कोर कमांडर स्तर की बैठक के 17वें दौर का आयोजन किया और पश्चिमी क्षेत्र में जमीनी स्तर पर सुरक्षा और स्थिरता बनाए रखने पर सहमत हुए।

बयान के अनुसार, “अंतरिम रूप से, दोनों पक्ष पश्चिमी क्षेत्र में जमीन पर सुरक्षा और स्थिरता बनाए रखने पर सहमत हुए। विदेश मंत्रालय के बयान में कहा गया है कि दोनों पक्ष निकट संपर्क में रहने और सैन्य और राजनयिक चैनलों के माध्यम से बातचीत बनाए रखने और जल्द से जल्द शेष मुद्दों के पारस्परिक रूप से स्वीकार्य समाधान पर काम करने पर सहमत हुए हैं। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *