राष्ट्रीय जनता दल (राजद) सुप्रीमो और बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू यादव और राबड़ी देवी के छोटे बेटे तेजस्वी यादव की शादी को लेकर बवाल शुरू हो गया है। लालू यादव के सबसे छोटे बहनोई साधु यादव ने इस शादी को लेकर लालू परिवार पर तीखा हमला बोला है।

साधु यादव ने इस शादी को लेकर यहां तक ​​कह दिया कि तेजस्वी यादव ने पूरे बिहार को नहीं बल्कि पूरे यादव वंश को कलंकित किया है। शुक्रवार को मीडिया से बात करते हुए साधु यादव ने लालू परिवार पर कई आरोप लगाए।

उन्होंने एक-एक कर लालू परिवार की पोल खोलने का भी ऐलान किया। साधु यादव ने कहा, ‘तेजस्वी यादव को बिहार की 13 करोड़ जनता का नेता बनने का कोई हक नहीं है। बता दें कि तेजस्वी यादव की पत्नी का परिवार ईसाई धर्म को मानता है।

हालांकि आपको बता दें कि लालू यादव के पूरे परिवार ने पिछले कई सालों से साधु यादव से दूरी बना रखी है। ऐसे में माना जा रहा है कि शादी में न्योता न मिलने पर साधु यादव का रोष सामने आया है।

बिहार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव जहां शादी के बंधन में बंध गए हैं, वहीं परिजनों को यह शादी पसंद नहीं आ रही है। खासकर तेजप्रताप और तेजस्वी के छोटे मामा साधु यादव काफी नाराज हैं।

साधु यादव ने शुक्रवार को मीडिया से बात करते हुए तेजस्वी यादव की पत्नी के साथ-साथ उनकी भतीजी के बारे में भी कई ऐसी बातें कही, जो लिखना ठीक नहीं होगा। साधु यादव ने कहा, ‘तेजस्वी ने पूरे यादव समाज को कलंकित किया है. उन्होंने जमात और समाज को बदनाम किया।

पटना आने पर आपका स्वागत चप्पलों से किया जाएगा। उन्होंने ऐसा काम किया है कि पूरी यादव बिरादरी शर्म से झुक गई है। लालू यादव ने अपने बेटे-बेटियों को कोई संस्कार नहीं दिया? जिसने अपने परिवार को संस्कार नहीं सिखाया, वह बिहार को क्या संस्कार सिखाएगा?

इन लोगों ने पिछले कई सालों से बिहार को बर्बाद किया है। इन लोगों ने न सिर्फ यादव समाज को बल्कि पूरे बिहार को धोखा दिया है। साधु यादव ने कई साल पहले हुई एक घटना के बारे में मीडिया को बताया।

साधु ने कहा, ‘हम राजस्थान के एक होनहार लड़के के साथ मीसा भारती की शादी करना चाहते थे, लेकिन लालू यादव को पता चला कि लड़के की मां ब्राह्मण हैं, इसलिए उन्होंने शादी नहीं होने दी।

लालू यादव ने मीसा से सिर्फ इसलिए शादी नहीं की क्योंकि उनकी मां ब्राह्मण थीं। अब इस शादी में लालू यादव ने कैसे हां भर दी? पिछले कई सालों से लालू यादव के पूरे परिवार ने साधु यादव से दूरी बना रखी है।

बिहार को करीब से जानने वाले वरिष्ठ पत्रकार सुनील पांडेय कहते हैं, ‘पिछले कई सालों से लालू यादव ने अपने पूरे साल खासकर साधु यादव से दूरी बना रखी है। हाल ही में हुए लालू परिवार के किसी भी फैमिली फंक्शन में साधु यादव की एंट्री नहीं हुई है।

जी हाँ, एक समय था जब साधु यादव ने मीसा भारती की शादी में पटना के सभी शोरूम से गाडि़यां उठाई थीं। उस समय बिहार में लालू यादव और राबड़ी देवी की सरकार थी। सियासी गलियारे में साधु यादव को महाशक्ति माना जाता था, लेकिन बाद में रिश्ते बिगड़ते गए और रिश्ते इतने खराब हो गए कि आवाजाही और बातचीत भी बंद हो गई।

हाल ही में तेजप्रताप ने एक बार साधु यादव को सार्वजनिक तौर पर किसी न किसी वजह से रोड पर बुला लिया था। हालांकि तेज प्रताप की शादी में भी साधु यादव से नहीं पूछा गया। तेजस्वी यादव की शादी गुरुवार को ही दिल्ली के एक फार्म हाउस में बेहद गुपचुप तरीके से हुई।

इस शादी में लालू यादव परिवार के गिने-चुने लोगों को ही इनवाइट किया गया था। इस शादी में यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव शामिल हुए थे। हालांकि इस शादी में राजनीतिक नेताओं से दूरी बनाकर रखी गई थी।