नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज गौतमबुद्धनगर के जेवर में नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट का शिलान्यास करेंगे। जानकारी के मुताबिक यह कार्यक्रम आज दोपहर 1 बजे होना है।

वहीं, इसके साथ ही उत्तर प्रदेश 5 अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डों वाला पहला राज्य बन जाएगा। शिलान्यास कार्यक्रम के लिए सभी तैयारियां कर ली गई हैं। पूरे आयोजन स्थल को एसपीजी ने अपने कब्जे में ले लिया है।

सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं। साथ ही मंच को भव्य तरीके से सजाया गया है। मंच को भव्य व सुंदर बनाने के लिए 20 क्विंटल फूलों की डोरियों का प्रयोग किया जा रहा है। वीवीआईपी और पार्टी नेताओं के बैठने की विशेष व्यवस्था की गई है, ताकि कार्यक्रम के दौरान उन्हें कोई परेशानी न हो।

इसके साथ ही आम जनता के लिए भी बेहतर तैयारी की गई है। हर जिले के लिए अलग ब्लॉक बनाया गया है, ताकि उन ब्लॉकों में उन जिलों के लोग बैठ सकें। सुरक्षा के लिए जनसभा स्थल पर सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं। आम जनता के जनसभा में आने के लिए 20 गेट तैयार किए गए हैं।

ताकि जनसभा में आने वाले लोगों को कोई परेशानी न हो। वाहनों की पार्किंग के लिए 10 पार्किंग स्थल तैयार किए गए हैं, जिसमें मीडिया पार्किंग से लेकर के वीवीआईपी पार्किंग स्थल शामिल हैं। वीवीआईपी और पार्टी नेताओं के बैठने की विशेष व्यवस्था की गई है, ताकि कार्यक्रम के दौरान उन्हें कोई परेशानी न हो।

इसके साथ ही आम जनता के लिए भी बेहतर तैयारी की गई है। हर जिले के लिए अलग ब्लॉक बनाया गया है, ताकि उन ब्लॉकों में उन जिलों के लोग बैठ सकें. सुरक्षा के लिए जनसभा स्थल पर सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं। आम जनता के जनसभा में आने के लिए 20 गेट तैयार किए गए हैं।

ताकि जनसभा में आने वाले लोगों को कोई परेशानी न हो। वाहनों की पार्किंग के लिए 10 पार्किंग स्थल तैयार किए गए हैं, जिसमें मीडिया पार्किंग से लेकर के वीवीआईपी पार्किंग स्थल शामिल हैं। आपको बता दें, जेवर एयरपोर्ट दिल्ली-एनसीआर का दूसरा अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट होगा।

यह भी माना जा रहा है कि इस हवाईअड्डे के बनने से इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे पर दबाव काफी कम हो जाएगा। हवाई अड्डे का पहला चरण 2024 तक पूरा होने की उम्मीद है। पहले चरण में 10,050 करोड़ रुपये की लागत आ रही है।

वहीं बताया जा रहा है कि पहला फेज पूरा होने पर एयरपोर्ट की सालाना क्षमता 1.2 करोड़ यात्रियों की हो सकती है। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का दावा है कि यह जेवर एयरपोर्ट एशिया का सबसे बड़ा और दुनिया का चौथा सबसे बड़ा एयरपोर्ट होगा। इसकी खासियत की बात करें तो यह एयरपोर्ट पूरी तरह से प्रदूषण मुक्त होगा।