उत्तराखंड की पूर्व राज्यपाल रही बेबी रानी मौर्य ने एक बार फिर से सुर्खियां बना रही हैं। उत्तर प्रदेश में साल 2022 के चुनाव की जोरो शोरो से तैयारी शुरू कर दी गई हैं। ख़ासकर मौजूदा सरकार अपने किए कामों को जानता को गिनवाने में बिल्कुल पीछे नहीं हट रही है जहां एक ओर राज्य के मुख्यमंत्री का कहना हैं कि उत्तर प्रदेश को अपराध मुक्त और महिलाओं के लिए एक सेव प्रदेश बताते नहीं थकते वहीं हाल ही में एक कार्यक्रम में पहुंची बेबी रानी मौर्या ने महिलाओं को ऐसी नसीहत दी जिसकी अब सुर्खियां बनने लगी है।


दरअसल बेबी रानी मौर्या भाजपा की राष्ट्रीय उपाध्यक्ष और वह उत्तर प्रदेश के वाराणसी के बजरडीहा में भाजपा के वाल्मीकि महोत्सव में पहुंची थी। यहां इन्होने मालीन बस्तियों की महिलाओं को संबोधन करते हुए ये नसीहत दे डाली कि महिलाओं को शाम 5 बाजे के बाद थाने नहीं जाना चाहिए। बेबी रानी मौर्या यही नहीं रुकी उन्होंने कहा की थाने में महिला अधिकारी और सब इंस्पेक्टर जरुर बैठती हैं, लेकिन मैं ये जरूर कहना चाहती हूं कि शाम 5 बजे के बाद अंधेरा होने के बाद थाने कभी मात जाइयेगा।

आप सभी आप सुबह जाइए और आगे बहुत जरूरी हैं तो अपने पति, पिता या भाई के साथ जाइए।इसके अलावा कोई इन्होंने यूपी में किसानों को खाद न मिलने अपनी कही और कहा कि किसानों को खाद नहीं मिलती हैं अधिकारी गुमराह कर रहे हैं। अधिकारियों की ये बादशाही नहीं चलेगी आगे कोई भी ऐसा करता है तो मैं खुद उसकी शिकायत करूंगी।