जम्मू-कश्मीर के शोपियां में इमामसाहब इलाके के तुलरान में शुरू हुई मुठभेड़ में जवानों ने एलईटी के तीन आतंकियों को मार गिराया है। इस बात की जानकारी मंगलवार को जम्मू-कश्मीर पुलिस ने दी।

जानकारी मिली है कि मारे गए आतंकियों में बिहार के वीरेंद्र पासवान का हत्यारा भी शामिल है. पुलिस अधिकारी ने जानकारी दे बताया था कि सोमवार शाम को मिली सूचना के आधार पर शोपियां में दो ऑपरेशन शुरू किए गए थे। दरअसल, सोमवार शाम को सुरक्षा बलों को इनपुट मिला कि शोपियां के तुलरान में आतंकी छिपे हुए हैं।

इसके बाद सेना, सीआरपीएफ और पुलिस ने घेराबंदी कर कार्रवाई शुरू करते हुए आतंकियों से सरेंडर करने की बार-बार अपील की। हालांकि सुरक्षाबलों की बातों को अनसुना कर आतंकियों ने उनपर फायरिंग शुरू कर दी थी, जिसकी जवाबी कार्रवाई में मुठभेड़ शुरू हुई थी। लाउडस्पीकर के जरिए आतंकियों को समझाने की कोशिश करते जवानों का वीडियो भी सामने आया था।

जम्मू-कश्मीर के डीजीपी दिलबाग सिंह ने सोमवार को बताया था कि “भरोसेमंद जानकारी के आधार पर शोपियां में इस शाम दो ऑपरेशन शुरू किए गए हैं। तुलरान में मुठभेड़ शुरू हो गई है। 3-4 आतंकी फंसे हुए हैं।” उन्होंने बताया था कि शोपियां के खेरीपोरा में एक और अभियान शुरू किया गया था।

घाटी में 24 घंटों के भीतर यह तीसरी मुठभेड़ है। इसे लेकर सुरक्षाबलों ने कार्रवाई तेज कर दी है। शोपियां मुठभेड़ में मारे गए तीन आतंकियों के पास से गोला-बारूद समेत बड़ी संख्या में सामग्री बरामद की गई है।

कश्मीर जोन पुलिस ने जानकारी दी थी कि मारे गए तीन आतंकी लश्कर-ए-तैयबा के द रेजिस्‍टेंस फ्रंट से हैं। कश्मीर के आईजी विजय कुमार ने बताया कि मारे गए तीन आतंकियों में से एक की पहचान गंदरबल के मुख्तार शाह के रूप में हुई है खाने का स्टाल लगाने वाले बिहार के वीरेंद्र पासवान की हत्या के बाद शोपियां भाग गया था।