उत्तर प्रदेश के बाराबंकी जिले के बबुरी गांव के पास गुरुवार को एक बस और रेत से लदे ट्रक की टक्कर हो गई जिसमें नौ लोगों की असमय मृत्यु हो गई और 27 घायल हो गए। पुलिस अधीक्षक यमुना प्रसाद ने बताया कि 70 यात्रियों को लेकर बस दिल्ली से बहराइच जा रही थी तब यह हादसा हुआ।

दुर्घटना बस चालक द्वारा सड़क पर आई गाय से टक्कर होने से बचाने की कोशिश में हुई। उन्होंने आगे बताया कि घटना में कम से कम सात लोग मारे गए थे, लेकिन घायल यात्रियों को अस्पताल ले जाने के बाद मरने वालों की संख्या बढ़ी है।

गुरुवार की सुबह करीब साढ़े पांच बजे टूरिस्ट बस देवा कोतवाली क्षेत्र के किसान पथ स्थित बबुरी गांव पहुंची, तभी सामने से आ रहे ट्रक से टकरा गई। कहा जा रहा है कि टक्कर इतनी जोरदार थी कि भारी वाहनों के परखच्चे उड़ गए और ट्रक का अगला हिस्सा और बस का काफी हिस्सा क्षतिग्रस्त हो गया।

घायलों को लखनऊ के ट्रामा सेंटर में भर्ती कराया गया है। बस में कुल 76 यात्री सवार थे। मौके पर मौजूद लोगों के मुताबिक करीब 2 घंटे की मशक्कत के बाद शव और घायलों को निकाला जा सका। हादसे की सूचना मिलते ही अधिकारी मौके पर पहुंचे।

बस से कुछ हिस्सों को काट कर कई घायलों को निकालने में कामयाबी हासिल हुई। रिपोर्ट के अनुसार, सभी घायलों को जिला अस्पताल भेजा गया, जहां डॉक्टरों ने नौ को मृत घोषित कर दिया। हालांकि, अभी दूसरे यात्रियों की पहचान नहीं हो पाई है। हादसे में 15 लोगों की जान गई है।

घटना पर शोक जताते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पीड़ितों के परिवार को दो-दो लाख रुपए और घायलों को 50-50 हजार रुपयों की अनुग्रह राशि देने की घोषणा की है और स्थानीय प्रशासन से घायलों को हर संभव चिकित्सा सुविधा मुहैया कराने का निर्देश दिया है।

उन्होंने ट्विटर पर लिखा “जनपद बाराबंकी में सड़क दुर्घटना से हुई नागरिकों की मृत्यु अत्यंत दुःखद है। मेरी संवेदनाएं मृतकों के शोक संतप्त परिजनों के साथ हैं। प्रभु श्री राम से प्रार्थना है कि दिवंगत आत्माओं को शांति तथा घायलों को शीघ्र स्वास्थ्य लाभ प्रदान करें।”

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी घटना पर दुख जताया है। प्रधानमंत्री ने ट्वीट कर लिखा “उत्तर प्रदेश के बाराबंकी में हुए सड़क हादसे से दु:खी हूं। मृतकों के परिवार वालों के प्रति संवेदनायें। घायलों के लिये प्रार्थना। प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राहत कोष से मृतकों के निकटस्थ परिजनों को दो-दो लाख रुपये और घायलों को 50-50 हजार रुपये दिये जायेंगे।”