प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बुधवार को केंद्रीय मंत्री परिषद की बैठक की अध्यक्षता करेंगे। सूत्रों ने मंगलवार को बताया कि बैठक में कोविड संबंधी हालात और टीकाकरण पर चर्चा होने की संभावना है। कुछ मंत्रालयों के कामकाज की समीक्षा हो सकती है। यह बैठक कैबिनेट फेरबदल और विस्तार की अटकलों के बीच हो रही है।

यह अभ्यास अगले महीने संसद के मानसून सत्र के शुरू होने से पहले की उम्मीद है। बता दें कि प्रधानमंत्री मोदी ने विभिन्न राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक की जिसमें आगामी चुनावों की अध्यक्षता करने वाले राज्य उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड भी थे।

इन दोनों राज्यों में 2022 में विधानसभा के चुनाव होने वाले हैं। हालांकि आज की बैठक में केंद्र द्वारा कोरोना से लड़ने के लिए उठाए गए कदमों और फैसलों की चर्चा संभव है।

भाजपा के एक वरिष्ठ अधिकारी द्वारा दिए गए जानकारी के अनुसार प्रधानमंत्री इस बैठक में मंत्रियों से लोगों की समस्याओं को कम करने के लिए सरकार द्वारा किए गए उपायों के बारे में जनता को संदेश फैलाने के लिए कह सकते हैं।

बुधवार की बैठक मुख्य रूप से सड़क और परिवहन मंत्रालय, नागरिक उड्डयन और दूरसंचार मंत्रालय जैसे बुनियादी ढांचा मंत्रालयों द्वारा किए गए कार्यों की समीक्षा करने के लिए बताई जा रही है । इससे पहले प्रधानमंत्री ने रक्षा क्षेत्र में अधिक ध्यान देने के लिए हाई लेवल मीटिंग की।

प्रधानमंत्री आवास पर हुई इन बैठकों में अधिकांश में जहां भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा मौजूद थे,वहीं भाजपा मुख्यालय में भी एक बैठक हुई जिसमें कई वरिष्ठ मंत्रियों के साथ भाजपा के कई वरिष्ठ अधिकारियों ने भी हिस्सा लिया।

चर्चा है कि इस बार सरकार और पार्टी यानी कि दोनों स्तरों पर फेरबदल हो सकती है। सरकार और पार्टी दोनों को एक नया रूप देने की कोशिश की जा रही है क्योंकि अगले साल कई राज्यों में चुनाव होने हैं और पार्टी 2024 में होने वाले लोकसभा चुनावों से पहले और भी सशक्त बनना चाहेगी।