पर्यटन नगरी वाल्मीकिनगर में कोरोना गाइड लाइन में हुए बदलाव के बाद रौनक लौटने लगी है. नए साल के आगमन पूर्व एक बार फिर पर्यटन नगरी वाल्मीकि टाइगर रिजर्व सैलनियों से गुलजार होने लगा है. 

इंडो-नेपाल सीमा  (Indo-Nepal Border) पर स्थित वाल्मिकीनगर अन्तर्गत बिसहा के एलीफेंटा पीट रिसॉर्ट में गजल संध्या कार्यक्रम का आयोजन किया गया जिसमें प्रसिद्ध गजल गायिका रंजना झा और दिल्ली संगीत नाटय कला अकादमी के कौशिक मित्रा ने अपने गजल गायकी से सैलानियों को मंत्र मुग्ध कर दिया.

दरअसल, वाल्मीकिनगर के इको फ्रेंडली बम्बू हट में टूरिज्म डेवलपमेंट के क्षेत्र में युवा उद्मी आशुतोष द्विवेदी की पहल पर बिहार के विभिन्न हिस्सों से निजी कंपनी के डिस्ट्रीब्यूटर पर्यटन नगरी पहुंचे थे. इस दौरान गोल्ड मेडलिस्ट गजल गायक कौशिक मित्रा ने बिहार के इकलौते टाईगर रिजर्व की खूबसूरती की जमकर सराहना की.

उन्होंने कहा कि सरकार के साथ साथ स्थानीय युवा भी पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए आगे आएं हैं, जो काबिले तारीफ है. वहीं गजल गायिका रंजना झा ने कहा कि नव वर्ष के आगमन पूर्व यह आयोजन पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षित करेगा.

साथ ही उन्होंने बताया कि पहली दफा वाल्मीकि नगर आकर वे काफी रोमांचित हैं और उन्होंने लोगों से एक बार यहां आकर प्रकृति के गोद में बसे रमणीक स्थल के दीदार की अपील कि ताकि पर्यटन को पंख लग सके.