एसटीपीएल की2×660 क्षमता की बक्सर तापीय बिजली परियोजना को पीएफसी और आरईसी ने दी 8,520 करोड़ रुपये की वित्तीय सहायता

ऊर्जा क्षेत्र पर केंद्रित भारत की अग्रणी एनबीएफसी और ऊर्जा मंत्रालय के अधीन आने वाली पीएसयू पावर फाइनेंस कॉर्पोरेशन लिमिटेड (पीएफसी) ने आरईसी लिमिटेड (आरईसी) के साथ मिलकर 2×660 मेगावाट की बक्सर तापीय बिजली परियोजना को 8,520.46 करोड़ रुपये का सावधि कर्ज देने के लिए 26 नवंबर, 2020 को एसजेवीएन थर्मल (प्रा.) लिमिटेड (एसटीपीएल) के साथ समझौता ज्ञापन (एमओयू) पर हस्ताक्षर किए हैं।

ऊर्जा क्षेत्र पर केंद्रित भारत की अग्रणी एनबीएफसी और ऊर्जा मंत्रालय के अधीन आने वाली पीएसयू पावर फाइनेंस कॉर्पोरेशन लिमिटेड (पीएफसी) ने आरईसी लिमिटेड (आरईसी) के साथ मिलकर 2×660 मेगावाट की बक्सर तापीय बिजली परियोजना को 8,520.46 करोड़ रुपये का सावधि कर्ज देने के लिए 26 नवंबर, 2020 को एसजेवीएन थर्मल (प्रा.) लिमिटेड (एसटीपीएल) के साथ समझौता ज्ञापन (एमओयू) पर हस्ताक्षर किए हैं।

https://i0.wp.com/static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/IMG-20201127-WA0086IJ5P.jpg?w=640

 एसटीपीएल, एसजेवीएन लिमिटेड की एक पूर्ण स्वामित्व वाली कंपनी है और इस परियोजा का निर्माण कर रही है। 2×660 मेगावाट की तापीय परियोजना वित्त वर्ष 2023-24 तक स्थापित होने का अनुमान है और भविष्य में बिहार व दूसरे राज्यों की बिजली की जरूरतें पूरी करने के लिए लगभग 9828 मिलियन यूनिट बिजली पैदा करेगी।

26 नवंबर, 2020 को पीएफसी, नई दिल्ली में पीएफसी के सीएमडी श्री रविंदर सिंह, डिल्‍लो,पीएफसी के निदेशक (वाणिज्यिक) और अतिरिक्त प्रभारी निदेशक (परियोजना) श्री पी.के. सिंह, एसजेवीएन के सीएमडी श्री एन. एल. शर्मा, एसजेवीएन के निदेशक (वित्त) श्री ए. के. सिंह की उपस्थिति में एमओयू पर हस्ताक्षर हुए।

इस अवसर पर एसटीपीएल के सीईओ और सीएफओ, पीएफसी के कार्यकारी निदेशक (ईआर एंड एनईआर), पीएफसी व आरईसी के वरिष्ठ अधिकारियों तथा कई अन्य गणमान्य लोग उपस्थित रहे।

पीएफसी के एसजेवीएन के साथ पुराने संबंध रहे हैं और इस प्रस्तावित तापीय परियोजना के लिए वित्तपोषण से इन दोनों कंपनियों के बीच संबंधों को और भी मजबूती मिलेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.