चार राष्‍ट्रों के राजदूतों ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्‍यम से भारत के राष्‍ट्रपति को अपने परिचय पत्र पेश किए

राष्‍ट्रपति श्री रामनाथ कोविंद ने आज (20 नवम्‍बर, 2020 को) वर्चुअल माध्‍यम से आयोजित एक कार्यक्रम में चार देशों – हंगरी, मालदीव, चाडऔर ताजिकिस्‍तान के राजदूतों और उच्‍चायुक्‍तों के परिचय पत्रों को स्‍वीकार किया। जिन लोगों ने परिचय पत्र पेश किए, वे इस प्रकार हैं –

  1. हंगरी के राजदूत माननीय श्री अंद्रास लास्‍लो किराली
  2. मालदीव के उच्चायुक्त माननीय डॉ. हुसैन नियाज़,
  3. चाड के राजदूत माननीय श्री सोंगुई अहमद
  4. ताजिकिस्तान के राजदूत माननीय श्री लुकमन

इस अवसर पर अपने संबोधन में राष्‍ट्रपति ने राजदूतों की नियुक्ति पर उन्‍हें शुभकामनाएं दीं। उन्‍होंने कहा कि भारत के इन चारों देशों के साथ मैत्री संबंध हैं और हमारे रिश्‍ते शांति तथा समृद्धि के समान दृष्टिकोण पर आधारित और बहुत गहरे हैं। उन्‍होंने इन सरकारों का इस बात के लिए शुक्रिया अदा किया कि उन्‍होंने भारत की संयुक्‍त राष्‍ट्र सुरक्षा परिषद की 2021-22 की अवधि के लिए अस्‍थायी उम्‍मीदवारी का समर्थन किया।

राष्‍ट्रपति कोविंद ने कहा कि कोविड-19 महामारी ने इस बात को अनिवार्य बना दिया है कि हम सामूहिक स्‍वास्‍थ्‍य और मानवतामात्र के आर्थिक कल्‍याण के लिए वैश्विक सहयोग सुनिश्चित करें। उन्‍होंने उम्‍मीद जताई कि अंतर्राष्‍ट्रीय समुदाय इस महामारी का समाधान तलाशने के बहुत करीब पहुंच चुका है और वह इस संकट से अधिक शक्तिशाली होकर उबरेगा।

Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments