ट्विटर ने लद्दाख को चीन का हिस्सा दिखाए जाने वाले नक्शे पर मांगी माफी, 30 नवम्बर तक सुधार की कही बात

लद्दाख को चीन का हिस्सा बताने वाले मैप पर भारत द्वारा व्यक्त की गई तीखी प्रतिक्रिया के बाद अब ट्विटर ने अपनी गलती मानते हुए संसदीय समिति से लिखित तौर पर माफी मांग ली है। साथ ही ट्विटर ने इस गलती को सुधारने के लिए 30 नवम्बर तक का समय मांगा है। इस बात की जानकारी इस समिति की चेयरपर्सन मीनाक्षी लेखी ने दी है।


इस बाबत जानकारी देते हुए बीजेपी सांसद मिनाक्षी लेखी ने कहा,’ट्विटर के चीफ प्राइवेसी ऑफिसर ने एक एफिडेविट में बताया है कि हम अपनी गलती मानते हैं, लद्दाख के एक हिस्से को गलत जियो-टैग करके चीन का हिस्सा दिखाया गया। उसे ठीक करने के लिए उन्हें 30 नवंबर 2020 तक का समय लगेगा। 

आपको बता दें कि ट्विटर की इस गलती को लेकर डेटा प्रोटेक्शन बिल पर बनी संसदीय समिति ने इस पर कड़ी प्रतिक्रिया देते हुए गद्दारी करार दिया था और ट्विटर से इस बारे में स्पष्टीकरण देने को कहा था।

इसके बाद ट्विटर इंडिया ने समिति के सामने पेश होते हुए माफी भी मांग ली थी। हालांकि समिति ने कहा था कि शपथ पत्र ट्विटर इंक की तरफ से दिया जाना चाहिए न कि ट्विटर इंडिया द्वारा इसके बाद आज ट्विटर इंक के चीफ प्राइवेसी ऑफिसर डेमियन कॅरिन की हस्ताक्षर वाला शपथ पत्र समिति को सौंपा गया।

Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments