बिहार में एक बार फिर से सियासी हलचल तेज़ हो गई है. नितीश कुमार सातवीं बार बिहार के मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे. कल शाम 4:30 बजे नीतीश कुमार मुख्यमंत्री की शपथ लेंगे. आज राजभवन पहुंचे नितीश कुमार ने राज्यपाल को सरकार बनाने का दावा पेश किया. नीतीश के साथ हम पार्टी के मुखिया जीतनराम मांझी, वीआईपी पार्टी के मुखिया मुकेश सहनी भी राज्यपाल से मिलने पहुंचे मगर इस बार नीतीश के साथ उप-मुख्यमंत्री सुशील मोदी नहीं थे.

बिहार की सियासत में इस समय सबसे बड़ा सस्पेंस यह है की बिहार का उप-मुख्यमंत्री कौन होगा. सुबह से ही इस मुद्दे पर ख़बरों का बाज़ार गरम है. बिहार के सियासी गलियारे में कई नाम चल रहे है मगर अभी तक किसी के नाम पर मुहर नहीं लगी है.

आज NDA की बैठक में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने भी भाग लिया मगर उसमें भी उप-मुख्यमंत्री के नाम पर मुहर नहीं लग पायी. राजनाथ सिंह ने भी उप-मुख्यमंत्री के नाम पर मीडिया को गोल-मोल जवाब दिया.

मीडिया से बात करते हुए राजनाथ सिंह बोले “उप-मुख्यमंत्री के नाम पर सब बैठकर फैसला करेंगे. उचित समय पर आपको जानकारी दे दी जायेगी.” राजनाघ सिंह ने सभी मुद्दों पर बात की मगर उप-मुख्यमंत्री के सवाल को गोल-मोल कर गए. इस बात से कहीं न कहीं यह इशारा मिलता है की बिहार को इस बार नया उप-मुख्यमंत्री मिल सकता है.

बिहार: नीतीश कुमार ने उप-मुख्यमंत्री के नाम पर साधी चुप्पी, जानिए राजभवन से निकलते हुए क्या कहा

बिहार: NDA की बैठक में शामिल होने आ रहा है बीजेपी का यह दिग्गज नेता, बदल सकता है सियासी समीकरण