देश में दैनिक आधार पर कोविड के नए मामले 40 हजार से कमकोविड संक्रमण के सक्रिय मामलों और मृत्‍यु दर में भी लगातार गिरावट

देश में 6 दिनों के अंतराल के बाद कोविड संक्रमण के नए मामले आज 40,000 से कम रहे। पिछले 24 घंटों के दौरान ऐसे मामलों की संख्‍या 38,073 रही। लगातार तीसरे दिन कोविड के नए मामले 50,000 से कम रहे। पिछले 3-4 दिनों के दौरान दुनिया के कई देशों में कोविड संक्रमण के रोजाना आ रहे एक लाख नए मामलों को देखते हुए, भारत में स्थिति काफी बेहतर है। 

पिछले कुछ सप्‍ताह के दौरान देश में कोविड के नए सक्रिय मामलों में लगातार गिरावट आ रही है। पिछले 24 घंटों के दौरान लगातार 38वें दिन कोविड के नए सक्रिय मामलों की तुलना में ठीक होने वालों की संख्‍या आज 42,033 रही।कुल सक्रिय मामले घटकर 5,05,265 रह गए है। देश में कोविड संक्रमण के कुल पॉजिटिव मामलों में सक्रिय मामलों का हिस्‍सा घटकर 5.88 प्रतिशत रह गया है।

संक्रमण से ठीक होने वालों की संख्‍या भी लगातार बढ़ते हुए 92.64 प्रतिशत पर पहुंच गई है। अब तक कुल 79,59,406 लोग संक्रमण मुक्‍त हो चुके हैं। सक्रिय रूप से संक्रमित और संक्रमण मुक्‍त हुए लोगों के बीच का अंतर बढ़कर 74,54,141 हो गया है। संक्रमण से स्‍वस्‍थ हुए लोगों के 78 प्रतिशत नए मामले 10 राज्‍यों/केंद्र शासित प्रदेशों से है।

दिल्‍ली में सबसे ज्‍यादा 7,014 कोविड के मरीज एक दिन स्‍वस्‍थ हुए। केरल में यह संख्‍या 5,983 और पश्चिम बंगाल में 4,396 रही। 72 प्रतिशत कोविड के नए मामले 10 राज्‍यों/केंद्र शासित प्रदेशों से हैं। दिल्‍ली में कोविड संक्रमण से सबसे ज्‍यादा 5,983 नए मामले सामने आए है जो कि पिछले दिन के 7,745 मामलों की तुलना में कम रहे। पश्चिम बंगाल में 3,907 नए मामले सामने आए है।

केरल में दैनिक आधार पर कोविड संक्रमण के मामले लगातार घट रहे है। यह कम होकर 3,593 रह गए हैं। महाराष्‍ट्र में भी इनमें कमी आ रही है। राज्‍य में ऐसे नए मामलों की संख्‍या घटकर 3,277 रह गई। हालांकि इसके बावजूद संक्रमण के रोजाना नए मामलों को देखा जाए तो महाराष्‍ट्र का स्‍थान तीसरे और चौथे नंबर पर है। पिछले 24 घंटों के दौरान 448 लोगों की मौत हो चुकी है। आज लगातार दूसरे दिन कोविड से मरने वालों की संख्‍या 500 से कम रही। कोविड से मरने वाले लोगों में से 78 प्रतिशत 10 राज्‍यों/केंद्रशासित प्रदेशों से रहे।

ज्यादा जानकारी के लिए पढ़ें

शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ) शिखर सम्मेलन 2020 में प्रधानमंत्री का सम्बोधन

ज्यादा जानकारी के लिए पढ़ें

प्रधानमंत्री 12 नवंबर को जेएनयू परिसर में स्वामी विवेकानंद की प्रतिमा का अनावरण करेंगे

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी 12 नवंबर को शाम 6:30 बजे जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय परिसर में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से स्वामी विवेकानंद की प्रतिमा का अनावरण करेंगे। केंद्रीय शिक्षा मंत्री भी इस अवसर पर उपस्थित रहेंगे। प्रधानमंत्री का हमेशा से यह कहना है कि स्वामी विवेकानंद के आदर्श आज भी उतने ही प्रासंगिक हैं, जितने कि वे उनके जीवनकाल में थे।

प्रधानमंत्री ने अक्सर इस बात पर जोर दिया है कि जनता की सेवा और राष्ट्र के युवाओं को सशक्त बनाना देश को भौतिक, मानसिक और आध्यात्मिक रूप से मजबूत करता है और साथ ही वैश्विक स्‍तर पर देश की छवि को भी निखारता है। भारत की समृद्धि और शक्ति देश की जनता में निहित है। ऐसे में सभी को सशक्त बनाना, राष्ट्र को आत्मनिर्भर भारत का लक्ष्य प्राप्त करने की दिशा में आगे ले जाएगा।

ज्यादा जानकारी के लिए पढ़ें

वित्त मंत्री श्रीमती निर्मला सीतारमण ने पहली ब्रिक्स वित्त मंत्री और केंद्रीय बैंक गवर्नर बैठक में भाग लिया

केंद्रीय वित्त और कॉर्पोरेट कार्य मंत्री श्रीमती निर्मला सीतारमण ने आज ब्रिक्स रूस की अध्यक्षता में पहली ब्रिक्स वित्त मंत्री और केंद्रीय बैंक गवर्नर (एफएमसीबीजी) बैठक में भाग लिया। बैठक के एजेंडे में 2020 में जी20 सऊदी अध्यक्षता के परिणामों पर चर्चा, अवसंरचना निवेश और न्यू डेवलपमेंट बैंक की सदस्यता के विस्तार को प्रोत्साहित करने के लिए एक डिजिटल मंच आदि शामिल थे।

वित्त मंत्री ने कहा कि जी20, जिसके सभी ब्रिक्स देश सदस्य हैं, ने इस वर्ष कुछ बहुत ही महत्वपूर्ण कार्यों की शुरुआत की है, जिसमें कोविड-19 से मुकाबले के लिए जी20 कार्य योजना भी शामिल है। इसने संकट का सामना करने में सामूहिक वैश्विक प्रतिक्रिया के लिए व्यापक मार्गदर्शन प्रदान किया है।

इसके अतिरिक्त, जी20 ऋण सेवा निलंबन पहल ने निम्न-आय वाले देशों की नकदी जरूरतों को पूरा करने के लिए तत्काल सहायता सुनिश्चित की है। उन्होंने आगे कहा कि ब्रिक्स सदस्यों ने यह सुनिश्चित करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है कि उभरती अर्थव्यवस्थाओं की समस्याएं इन पहलों में उचित रूप में परिलक्षित हों।

डिजिटल अर्थव्यवस्था पर कर लगाने के मुद्दे का समाधान ढूँढने के लिए जारी अंतरराष्ट्रीय प्रयासों के बारे में, श्रीमती सीतारमण ने कहा कि एक सर्वसम्मत समाधान; निष्पक्षता, न्यायपूर्णता और कर प्रणालियों की स्थिरता सुनिश्चित करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा।

ज्यादा जानकारी के लिए पढ़ें

केंद्रीय संस्कृति राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्री प्रह्लाद सिंह पटेल ने राष्ट्रीय संग्रहालय का दौरा कर कल से संग्रहालयोंकला दीर्घाओं और प्रदर्शनियों को फिर से खोले जाने की तैयारियों की समीक्षा की

केंद्रीय संस्कृति राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्री प्रह्लाद सिंह पटेल ने आज राष्ट्रीय संग्रहालय का दौरा कर मंत्रालय द्वारा जारी मानक संचालन प्रक्रिया (एसओपी) के तहत 10 नवंबर, 2020 से संग्रहालयों, कला दीर्घाओं और प्रदर्शनियों को फिर से खोले जाने की तैयारियों की समीक्षा की। उन्होंने कहा कि इसे देखते हुए राष्ट्रीय संग्रहालय द्वारा की गई व्यवस्था की समीक्षा करने का फैसला लिया गया।

मंत्री ने तैयारियों पर संतुष्टि जाहिर की और इसके लिए पूरी टीम को बधाई दी। उन्होंने इस बात का उल्लेख किया कि राष्ट्रीय संग्रहालय ने एहतियाती उपायों के लिए कई कदम उठाए हैं। जैसे; ऑनलाइन टिकटों, प्रवेश द्वार पर लोगों के तापमान की जांच की व्यवस्था। केंद्रीय मंत्री ने सभी से इस व्यवस्था में और सुधार के लिए सुझाव की मांग की और लोगों को इस प्रक्रिया में सहयोग करने के लिए कहा। 

राष्ट्रीय संग्रहालय, नई दिल्ली को भारत सरकार के विभिन्न मंत्रालयों द्वारा जारी किए गए दिशा-निर्देशों का पालन करते हुए 10 नवंबर, 2020 को जनता के लिए फिर से खोल दिया जाएगा। इसके अलावा संस्कृति मंत्रालय के अधीन अन्य संग्रहालय भी इसका पालन करेंगे।

ज्यादा जानकारी के लिए पढ़ें

श्री मुख्तार अब्बास नकवी ने “हुनर हाट” का उद्घाटन दिल्लीहाट पीतमपुरा में किया

“हुनर हाट”, कोरोना की चुनौतियों के चलते लगभग 7 महीनों के बाद “लोकल के लिए वोकल” थीम के साथ, दिल्ली हाट, पीतमपुरा में 11 नवम्बर 2020 से पुनः शुरू होने जा रहा है। इसमें “माटी, मेटल और मचिया (लकड़ी-जूट के सामान)” के उत्पाद प्रमुख आकर्षण का केंद्र होंगे।

केंद्रीय अल्प संख्यक कार्य मंत्री श्री मुख्तार अब्बास नकवी ने आज यहाँ बताया कि दिल्ली हाट, पीतमपुरा में 11 से 22 नवम्बर, 2020 तक आयोजित होने वाले “हुनर हाट” में मिट्टी से बने अद्भुत खिलौने एवं अन्य आकर्षक उत्पाद, कुम्हार कला कीजादूगरी, मेटल से बने विभिन्न उत्पाद और देश के कोने-कोने से लकड़ी, जूट, बेंत-बांस से बने दुर्लभ हस्तनिर्मित उत्पाद प्रदर्शनी एवं बिक्री के लिए उपलब्ध होंगे। 

इनके इस शानदार स्वदेशी उत्पादन को मौका-मार्किट मुहैया कराने के लिए “हुनर हाट” बड़ा प्लेटफार्म देने जा रहा है। स्वदेशी उत्पादों की आकर्षक पैकेजिंग के लिए भी विभिन्न संस्थाओं के माध्यम से दस्तकारों-शिल्पकारों की मदद की जा रही है। इससे “आत्मनिर्भर भारत” अभियान को और मजबूती मिल रही है। श्री नकवी ने कहा कि पीतमपुरा में आयोजित हो रहे “हुनर हाट” में 100 से अधिक स्टाल लगाए गए हैं।

ज्यादा जानकारी के लिए पढ़ें

कोविड-19 महामारी के दौरान डॉक्टरों की सुरक्षा के लिए चिकित्सा उपकरण और अन्य जरूरी चीजें उपलब्ध करा रहे हैं स्टार्टअप

क्या चिकित्सा उपकरणों को इस तरह से डिज़ाइन किया जा सकता है कि यह डॉक्टरों को सुरक्षित रख सके और कोविड-19 संकट की विशिष्ट आपातकालीन जरूरतों को पूरा कर सके? विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग (डीएसटी) द्वारा समर्थित कई स्टार्ट-अप, कई उपकरणों के जरिए रास्ता दिखा रहे हैं।

इनमें वे स्टेथोस्कोप शामिल हैं जिनका इस्तेमाल डॉक्टर मरीज को छुए बिना कर सकते हैं। ऑक्सीजन कंसन्ट्रेटर शामिल हैं जो अस्पताल में ही ऑक्सीजन पैदा करने में अस्पतालों की मदद कर सकते हैं। साथ ही इनमें पोर्टेबल एवं ऐप-नियंत्रित आईओटी (इंटरनेट ऑफ थिंग्स) आधारित वेंटिलेटर सिस्टम शामिल हैं। कई भारतीय चिकित्सा उपकरण निर्माताओं और स्वदेशी ऑटोमेशन कंपनियों ने महामारी को एक चुनौती के रूप में लिया और संपर्क में आए बिना रोगियों के इलाज एवं निगरानी के लिए वेंटिलेटर, पोर्टेबल रेस्पिरेटरी एड्स या उपकरणों के अभिनव डिजाइन पेश किए।

भारत सरकार के विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग ने अपने ‘सेंटर फोर ऑगमेंटिंग वॉर विद कोविड-19 हेल्थ क्राइसिस’ (कवच) पहल के साथ पांच कंपनियों के वेंटीलेटर, रेस्पिरेटरी एड्स और अन्य महत्वपूर्ण चिकित्सा उपकरणों की तलाश की, उनका मूल्यांकन किया और उन्हें मदद उपलब्ध करायी। ये स्टार्टअप अब अपने उत्पादों को काम पर लगा चुके हैं।

ज्यादा जानकारी के लिए पढ़ें

श्री नरेंद्र सिंह तोमर की अध्यक्षता में 29 परियोजनाओं को मंजूरी

केंद्रीय खाद्य प्रसंस्करण उद्योग मंत्री श्री नरेंद्र सिंह तोमर की अध्यक्षता में हुई अंतर-मंत्रिस्तरीय स्वीकृति समिति (आईएमएसी) की बैठक में 443 करोड़ रुपये की निवेश लागत वाली 21 परियोजनाओं को मंजूरी दी गई, जिन्हें एकीकृत कोल्ड चेन और मूल्य वर्धन योजना के तहत 189 करोड़ रुपये के अनुदान से पोषित किया जायेगा।

श्री तोमर की अध्यक्षता में हुई एक और बैठक में आठ और परियोजनाओं को मंजूरी दी गयी। इन परियोजनाओं को 62 करोड़ रुपये के निवेश का लाभ मिलेगा और इनके लिए बीएफएल योजना के तहत 15 करोड़ रुपए का अनुदान मंजूर किया गया। बैठक में खाद्य प्रसंस्करण उद्योग राज्य मंत्री श्री रामेश्वर तेली भी उपस्थित थे। श्री तोमर ने कहा कि इन परियोजनाओं से किसानों और उपभोक्ताओं को लाभ होगा।

उन्होंने अधिकारियों से इन परियोजनाओं के कार्यान्वयन में तेजी लाने का आग्रह किया। 21 परियोजनाओं से लगभग 12,600 लोगों के लिए रोजगार पैदा होने और 2,00,592 किसानों को लाभ होने की संभावना है। ये परियोजनाएं 10 राज्यों- आंध्र प्रदेश, गुजरात, हिमाचल प्रदेश, जम्मू

कश्मीर, केरल, नागालैंड, पंजाब, तेलंगाना, उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश में फैली हुई हैं। एकीकृत कोल्ड चेन और मूल्य वर्धित बुनियादी ढांचे की योजना का उद्देश्य बागवानी और गैर-बागवानी उत्पादों की कटाई के बाद के नुकसान पर रोक लगाना और किसानों को लाभकारी मूल्य प्रदान करना है। वहीं दूसरी बैठक में मंजूर की गयी आठ परियोजनाओं से लगभग 2,500 लोगों के लिए रोजगार पैदा होने की संभावना है।

ज्यादा जानकारी के लिए पढ़ें

पीआईबी के स्थानीय कार्यालयों से प्राप्त जानकारी

महाराष्ट्र: महाराष्ट्र में सोमवार को भी कोविड-19 पॉजिटिव मामलों में गिरावट का दौर जारी रहा। राज्य में कम कल 3,277 नए कोविड-19 मामलों की सूचना मिली। यह 23 जून के बाद सबसे कम है। मुंबई में 599 नए मामले सामने आए। पुणे में भी सोमवार को मामलों में महत्वपूर्ण रुप से गिरावट दर्ज की गई है। यहां सोमवार को 631 नए मामले सामने आए।

गुजरात: स्वास्थ्य विभाग के आंकड़ों के अनुसार सोमवार को गुजरात में कोरोनावायरस के 971 नए मामलों के साथ राज्य में कुल मामले लगभग 1.82 लाख हो गए हैं। मेहसाणा में एक मौत सहित राज्य में कल पांच लोगों ने दम तोड़ा, जिससे कुल मौतों की संख्या 3,768 हो गई है। सोमवार को पूरे गुजरात में कम से कम 1,000 रोगियों को छुट्टी मिली। राज्य में अब तक 1.65 लाख लोग संक्रमण मुक्‍त हो चुके हैं।

राजस्थान: दिवाली से पहले, राज्य मे सक्रिय कोविड-19 के मामले और दैनिक आधार पर कोविड के नए मामले फिर से बढ़ने लगे हैं। राज्य में सोमवार को 1,858 नए मामले सामने आए, जिससे सक्रिय मामलों की संख्या अब 16,542 हो गई है।

मध्य प्रदेश: मध्य प्रदेश ने सोमवार को 809 नए कोविड-19 मामलों की सूचना दी, जिसमें संक्रमण के मामलों की संख्या 1,78,168 हो गई है। साथ ही छह मरीजों की मौत के साथ राज्य में मरने वालों का आंकड़ा 3,034 हो गया है। पिछले 24 घंटों में अस्पतालों से कुल 681 रोगियों को छुट्टी दी गई। इसके साथ अब तक राज्य में कुल 1,67,084 लोग संक्रमण मुक्‍त हो चुके हैं। राज्य में सक्रिय मामलों की संख्या 8,050 है।

छत्तीसगढ़: छत्तीसगढ़ सरकार ने सोमवार को अधिकारियों को पटाखों की बिक्री और उपयोग पर नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल के आदेश को सख्ती से लागू करने का निर्देश दिया। आदेश में कहा गया है कि अत्यधिक आतिशबाजी से वायु प्रदूषण बढ़ता है जो कोविड-19 के प्रसार को बढ़ा सकती है। राज्य सरकार के एक आदेश में त्योहारों के दौरान पटाखे फोड़ने की अवधि को केवल दो घंटे तक कर दिया गया है। छत्तीसगढ़ में आज तक 21,221 सक्रिय कोविड मामले हैं।

असम: असम में आज किए गए 28,526 परीक्षणों में से 328 मामलों का पता चला। साथ ही 1.15% संक्रमण के कुल पॉजिटिव मामले है। राज्य के स्वास्थ्य मंत्री ने ट्वीट कर बताया कि 508 रोगियों को छुट्टी दी गई है और राज्य में कुल मामले 2,09,117 मामले हैं।

मणिपुर: मणिपुर में, चुराचंदपुर के डॉक्टरों ने रोगियों की संख्या में वृद्धि के कारण स्वयं कोविड-19 ऑपरेशन थिएटर स्थापित किया है।

मेघालय: मेघालय में, कोविड-19 के कुल सक्रिय मामले 1,024 हैं, स्वस्थ होने वालों की संख्या 9,112 है जबकि 28 नए मामले हैं।

मिजोरम: राष्ट्रीय राजमार्ग 306 पर 11 दिनों की नाकाबंदी के बाद, असम पुलिस ने 20 से अधिक ट्रकों को मिजोरम तक पहुंचाया।

नागालैंड: सोमवार को 29 नए मामलों के साथ, नागालैंड में कोविड-19 के पॉजिटिव मामले 9,503 तक पहुंच गए हैं। राज्य में अब सक्रिय मामले 941 हैं जबकि 8,423 कोरोना मरीज स्वस्थ हुए हैं।

सिक्किम : सिक्किम कोविड-19 की स्थिति – ठीक होने वाले और डिस्चार्ज होने वाले – 3,839, सक्रिय मामले- 305, नए मामले- 51, अब तक आने वाले कुल मामले 4,308 हैं।

केरल: राज्य में स्थानीय निकाय चुनावों पर राज्य के स्वास्थ्य विभाग ने चिंता व्यक्त करता हुए कहा है कि  इससे केरल में कोविड -19 के मामलों में बढ़ोतरी हो सकती है। सभी निगाहें अब सुप्रीम कोर्ट में है जहां एक निर्दलीय विधायक द्वारा मतदान स्थगित करने के लिए एक याचिका दायर है, जिस पर अगले सोमवार को सुनवाई होने की उम्मीद है। 

कोविड -19 के लिए बनी राज्य विशेषज्ञ समिति ने कहा है कि ’ओणम समूहों’ के समान चुनाव में लोगों के समूहों  में इकठे होने की संभावना से इंकार नहीं किया जा सकता है। इस बीच, दो महीने लंबे सबरीमाला तीर्थयात्रा भी 16 नवंबर से शुरू होनी है, सरकार ने कोविड -19 के प्रसार को रोकने के लिए मंदिर की ट्रेकिंग करते हुए मानक प्रोटोकॉल बनाया है जिनका तीर्थ यात्रियों को सख्ती से पालन करना होगा।

तमिलनाडु: तमिलनाडु के स्कूल फिर से खुलेंगे : अभिभावकों के साथ बैठक गतिरोध में समाप्त; तमिलनाडु में 12,000 से अधिक स्कूलों ने सोमवार को 9 से 12 वीं कक्षा के छात्रों के लिए स्कूलों को फिर से खोलने पर हितधारकों की राय जानने के लिए एक राज्य-व्यापी परामर्श आयोजित किया, तमिलनाडु सरकार ने 10 नवंबर संग्रहालयों को पुन: खोलने के लिये एसओपी जारी किया है; प्रति घंटे प्रवेश के लिए आगंतुकों की संख्या की अनुमति के छह फीट की भौतिक दूरी बनाने के निर्देश। तमिलनाडु में कल कोविड से 18 मौतो की सूचना, जो पांच महीनों में लगभग सबसे कम है।

कर्नाटक: उच्च शिक्षा विभाग ने राज्य में डिग्री, इंजीनियरिंग और डिप्लोमा कॉलेज खोलने के मद्देनजर विश्वविद्यालय अनुदान आयोग के दिशानिर्देशों के अनुसार मानक संचालन प्रक्रिया तैयार की है। इस त्योहारी सीजन में कर्नाटक राज्य सड़क परिवहन निगम 1000 अतिरिक्त बसें चलाएगा; केएसआरटीसी की विशेष और शेड्यूल बसों के लिए टिकटों का अग्रिम आरक्षण कर्नाटक और अन्य राज्यों में 706 काउंटरों के माध्यम से किया जा सकता है। त्योहारी सीजन के कारण उच्च आवाजाही के बावजूद, बेंगलुरु शहर में कल 978 मामलों की सूचना मिली, जो पिछले 4 महीनों में सबसे कम है।

आंध्र प्रदेश: सरकार ने कोविड वैक्सीन के वितरण को चाक-चौबंद करने के लिए एक राज्य-स्तरीय संचालन समिति का गठन किया है। कुल 18 सदस्यों के साथ संचालन समिति गठित करने के आदेश जारी किए गए हैं। मुख्य सचिव नीलम साहनी समिति की अध्यक्षा होंगी, जबकि स्वास्थ्य विभाग के
प्रमुख मुख्य सचिव संयोजक के रूप में कार्य करेंगे।

जब भी कोई टीका जनता के लिए तैयार होगा, हेल्थकेयर कर्मीयों का सबसे पहले टीकाकरण होगा। आंध्र प्रदेश के आठ जिलों में कल कोविड के 100 से कम मामले रिकॉर्ड किये गए; इस बीच, इसी अवधि में संक्रमण से ठीक होने वाले 1,549 रोगियों के बाद अब सक्रिय मामलों 21,235 रह गए हैं। कुल मिलाकर, राज्य में कोविड -19 से 8.16 लाख से अधिक लोग संक्रमण मुक्‍त हुए हैं।

तेलंगाना: पिछले 24 घंटों में 1267 नए मामले सामने आए है, 1831 संक्रमण मुक्‍त हुए हैं और 4 मौतें दर्ज की गई है; 1267 मामलों में से, 201 मामलों की रिपोर्ट जीएचएमसी से मिली हैं। कुल मामले : 2,52,455; सक्रिय मामले: 18,581; मृत्यु: 1385; डिस्चार्ज: 2,32,489, रिकवरी दर 92.09 प्रतिशत, जबकि देशव्यापी रिकवरी दर 92.60 प्रतिशत है।

पीआईबी द्वारा जांचे गए तथ्य