पढ़ाई में बाधा बनी आर्थिक तंगी तो होनहार छात्रा ने दे दी अपनी जान, पढ़ें

तेलंगाना के शादनगर की रहने वाली और लेडी श्री राम कॉलेज में पढ़ रही एक 19 वर्षीय छात्रा ऐश्वर्या ने कथित तौर पर अपने घर में 2 नवंबर को आत्महत्या कर ली थी। ऐश्वर्या के पिता ने बताया, “वो पढ़ने में बहुत अच्छी थी। मैं कर्ज़ा लेकर उसे पढ़ा रहा था। मेरी आर्थिक स्थिति अच्छी नहीं थी।”

 
मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक ऐश्वर्या को एक लैपटॉप की जरूरत थी लेकिन आर्थिक तंगी की वजह से उसका परिवार उसे लैपटॉप दिलाने में विफल रहा। इसके बाद ऐश्वर्या की पढ़ाई नही हो पा रही थी। इसके बाद पढ़ने में होनहार ऐश्वर्या के लिए पढ़ाई जारी रखना मुश्किल हो रहा था। आपको बता दें कि ऐश्वर्या के पिता एक मोटरसाइकिल मैकेनिक हैं।


ऐश्वर्या ने अपने आत्महत्या से पहले एक सुसाइड नोट तेलगु में लिखा, “मेरे कारण मेरे परिवार के कई खर्च बढ़ रहे हैं, मैं उनके लिए एक बोझ हूं। मेरी शिक्षा एक बोझ है। अगर मैं पढ़ाई नहीं कर सकती, तो मैं जिंदा नहीं रह सकती… कृपया कोशिश करें और सुनिश्चित करें कि INSPIRE छात्रवृत्ति कम से कम एक साल के लिए दी जाए।”


इस बारे में जानकारी देते हुए शादनगर इंस्पेक्टर ने बताया कि 3 नवम्बर को श्रीनिवास रेड्डी ने अपनी बेटी की आत्महत्या की शिकायत दर्ज़ कराई। वो लोन लेकर उसे पढ़ा रहे थे। उनकी बेटी को लगने लगा कि वो उन पर बोझ है। सुसाइड नोट में लिखा है कि कोई भी उसकी मौत का ज़िम्मेदार नहीं है। उसने आर्थिक तंगी की वजह से ये कदम उठाया।’

Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments