मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल के नजदीक सूखी सेवनिया के ग्राम बारखेड़ी में एक बड़े हादसे में चार बच्चों की मौत हो गई जबकि दो अन्य घायल हो गए। यह हादसा उस वक़्त हुआ जब बच्चे दीपावली से पहले घर-आंगन की लिपाई के लिए मिट्टी लेने पहुंचे थे। इसी दौरान एक नाले की दीवार ढह गई और इसी में दबकर चार बच्चों की मौत हो गई। मृत बच्चों की उम्र 7 से 12 साल के बीच बताई जाती है।


बच्चों की मौत पर सीएम शिवराज सिंह चौहान ने दुख व्यक्त किया है। सीएम ने ट्वीट कर लिखा,’भोपाल के ग्राम बरखेड़ी में मिट्टी धँसने से हुई चार बच्चों की मृत्यु का समाचार अत्यंत ही दुःखद और हृदय विदारक है।मेरी संवेदनाएँ पीड़ित परिवारों के साथ हैं। मैं ईश्वर से प्रार्थना करता हूँ कि वे दिवंगत आत्माओं को शांति दें और परिजनों को इस वज्रपात को सहने की शक्ति दें।’


भोपाल के कलेक्टर ने इस घटना के बाद जानकारी देते हुए बताया, “परिवार को 4-4 लाख रुपये की आर्थिक सहायता उपलब्ध कराई जा रही है।” आपको बता दें कि इससे पहले एमपी के निवाड़ी जिले में एक बोरवेल में गिरने की वजह से प्रह्लाद नाम के एक बच्चे की मौत हो गई थी। 90 घंटे तक रेस्क्यू ऑपेरशन चलाने के बाद भी प्रह्लाद को बचाया न जा सका।