रिकॉर्ड उत्पादन और उर्वरकों की अच्‍छी बिक्री के कारण एफएसीटी ने तिमाही में 83.07 करोड़ रुपये का रिकॉर्ड लाभ अर्जित किया

फर्टिलाइजर्स एंड कैमिकल्‍स त्रावणकोर लिमिटेड (एफएसीटी), रसायन और उर्वरक मंत्रालय के तहत एक सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनी है। इसने 30 सितंबर, 2020 को समाप्त तिमाही में 83.07 करोड़ रुपए का रिकॉर्ड लाभ अर्जित किया है।

फर्टिलाइजर्स एंड कैमिकल्‍स त्रावणकोर लिमिटेड (एफएसीटी), रसायन और उर्वरक मंत्रालय के तहत एक सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनी है। इसने 30 सितंबर, 2020 को समाप्त तिमाही में 83.07 करोड़ रुपए का रिकॉर्ड लाभ अर्जित किया है।

यह अब तक का कंपनी द्वारा एक तिमाही में अर्जित किया गया सबसे अधिक लाभ है। पिछले साल इसी अवधि में लाभ 6.26 करोड़ रुपए रहा था। कंपनी ने इस तिमाही के दौरान 1047 करोड़ रुपये का टर्न ओवर किया है, जबकि पिछले साल इस अवधि में 931 करोड़ रुपए का टर्न ओवर हुआ था।

30 सितंबर, 2020 को समाप्त हुई तिमाही के दौरान, कंपनी ने अपने प्रमुख उत्पाद फैक्‍टमफोस और अमोनियम सल्फेट के उत्‍पादन और बिक्री में अब तक का सबसे बेहतर त्रिमासिक रिकॉर्ड स्‍थापित किया है।

कंपनी ने पहली छमाही के दौरान एमओपी के दो और एनपीके उर्वरकों के एक शिपमेंट का आयात किया है। 

मुख्‍य बातें

अब तक का एक तिमाही में फैक्‍टमफोस का सबसे अधिक उत्‍पादन 2.36 लाख एमटी रहा।

अब तक का अमोनियम सल्फेट का सर्वाधिक उत्‍पादन 0.69 लाख एमटी रहा।

इस तिमाही में फैक्‍टमफोस और अमोनियम सल्फेट की बिक्री इस तिमाही में क्रमशः 2.77 लाख एमटी और 0.08 लाख एमटी तक पहुंच गई।

एमओपी की बिक्री 0.46 लाख एमटी और आयातित एनपीके की बिक्री 0.26 लाख एमटी हुई।

फैक्‍टमफोस की अब तक की सबसे अधिक अर्ध वार्षिक 4.63 लाख एमटी बिक्री।

दूसरी तिमाही के दौरान तटीय शिपिंग मार्ग के माध्यम से उर्वरकों को भेजने का काम शुरू किया गया।

कंपनी ने पश्चिम बंगाल और ओडिशा में नए बाजारों में प्रवेश किया।

कंपनी ने कोविड-19 महामारी के कारण पैदा हुए अवरोधों के बावजूद यह शानदार प्रदर्शन अर्जित किया है। कंपनी ने भारत सरकार और केरल सरकार द्वारा जारी किए गए कोविड प्रोटोकॉल और दिशा-निर्देशों का भी पालन किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *