बिहार चुनाव के प्रचार का आज आखिरी दिन है. आज रैलियों की होड़ और लाउडस्पीकरों के शोर पर विराम लग जायेगा. 7 तारीख को तीसरे चरण में 15 जिलों की 78 सीटों के लिए मतदान होगा. सभी दिग्गज नेता चाहेंगे की आज अपनी पूरी ताकत झोंक दी जाए. पक्ष-विपक्ष का एक दूसरे के ऊपर आरोप-प्रत्यारोप का सिलसिला अभी भी जारी है.

इसी क्रम में रालोसपा प्रमुख उपेंद्र कुशवाहा ने बिहार के मुख्यमंत्री नितीश कुमार और महागठबंधन के मुख्यमंत्री के उम्मीदवार तेजस्वी यादव पर जमकर हमला किया. तेजस्वी यादव के 10 लाख नौकरी देने के वादे पर कुशवाहा ने कहा “बिहार में 6 करोड़ बेरोज़गार है और वह 10 लाख नौकरी देने की बात कर रहे है. यह तो ऊँट के मुँह में जीरे के है. मज़ाक है. कुछ लोगों को सरकारी नौकरी देने से बेरोज़गारी की समस्या हल नहीं हो सकती. बेरोज़गारी की समस्या का हल बिहार में ही ढूंढना ही पड़ेगा. किसानों के लिए यहाँ काम करना होगा, कटु उद्योग बनाना होगा तभी यह कामियाब होगा.”

NDA पर तंज कस्ते हुए कुशवाहा ने कहा “NDA तो पहले  से ही जुमलेबाज़ी में माहिर है. 15 लाख सबके खाते में आएँगे. यह भी उन्हीं का जुमला है. अब किसी के जुमलेबाज़ी पर बिहार की जनता विश्वास नहीं करने वाली है.”

AIMIM के नेता ओवैसी पर महागठबंधन के नेता द्वारा दिए गए आपत्तिजनक बयान पर कुशवाहा ने कहा “राहुल गाँधी की उपस्तिथि में उन्ही के मंच से कांग्रेस का एक नेता ओवैसी जी के हाथ-पैर काटकर हैदराबाद भेजने की बात कहता है और राहुल गाँधी चुप रहते है. यह बहुत आपत्तिजनकर बात है. इसके ऊपर कांग्रेस पार्टी और चुनाव आयोग को फ़ौरन एक्शन लेना चाहिए. अगर ऐसा नहीं होता है तो हमारे लोगों ने भी चूड़ियाँ नहीं पहनी हुई है. हम पर कोई हमला करेगा तो हम चुप नहीं बैठेंगे. अगर हमें डायरेक्ट एक्शन में आना होगा तो इसकी साड़ी जवाबदेही सरकार की होगी. कोई हमारे ऊपर डंडा चलाएगा और पुलिस चुपचाप बैठी रहेगी तो हम अपनी जान बचाने के लिए डंडा चलाएंगे. संविधान भी हमें यह अधिकार देता है.”

बिहार चुनाव: चिराग पासवान का आरोप, नितीश कुमार बिहार के इतिहास के सबसे कमज़ोर मुख्यमंत्री

बिहार चुनाव: भोजपुरी अभिनेता निरहुआ की रैली में मची भगदड़, चले लाठी कुर्सी

बिहार चुनाव: NDA ने किसानों के लिए जितना किया और कर रहा है, उतना किसी ने कभी नहीं किया- प्रधानमंत्री मोदी