राष्ट्रीय एकता दिवस पर आज नई दिल्ली स्थित सरदार पटेल चौक पर एक विशेष कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इसमें राष्ट्रपति श्री राम नाथ कोविन्द, उपराष्ट्रपति श्री एम वेंकैया नायडु, केंद्रीय गृह मंत्री श्री अमित शाह और दिल्ली के उपराज्यपाल श्री अनिल बैजल ने राष्ट्रीय गौरव और हम सबके प्रेरणास्त्रोत श्रद्धेय सरदार वल्लभभाई पटेल की जयंती पर उन्हें पुष्पांजलि अर्पित की।

इस अवसर पर केंद्रीय गृह मंत्री श्री अमित शाह ने कहा कि “सरदार पटेल जी का लौह नेतृत्व, कर्तव्यनिष्ठा और राष्ट्रभक्ति सदैव हमारा मार्गदर्शन करती रहेगी”।

उन्होने उपस्थित लोगों को राष्ट्रीय एकता की शपथ दिलाते हुए कहा कि ‘मैं सत्य निष्ठा से शपथ लेता हूं कि मैं राष्ट्र की एकता, अखंडता और सुरक्षा को बनाए रखने के लिए स्वयं को समर्पित करूंगा और अपने देशवासियों के बीच यह संदेश फैलाने का भी भरसक प्रयत्न करूंगा। मैं यह शपथ अपने देश की एकता की भावना से ले रहा हूं जिसे सरदार वल्लभभाई पटेल की दूरदर्शिता एवं कार्यों द्वारा संभव बनाया जा सका। मैं अपने देश की आंतरिक सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए अपना योगदान करने का भी सत्य निष्ठा से संकल्प करता हूं।’

श्री अमित शाह ने अपने ट्वीट में कृतज्ञ राष्ट्र की ओर से महान राष्ट्रभक्त सरदार पटेल के चरणों में वंदन करते हुए कहा कि “राष्ट्रीय एकता के प्रतिबिंब व हर भारतीय के हृदय में बसने वाले लौह पुरुष सरदार पटेल जी को कोटिश: नमन। आजादी के बाद सैकड़ों रियासतों में बिखरे भारत का एकीकरण कर, उन्होंने आज के मजबूत भारत की नींव रखी। उनका दृढ़ नेतृत्व, राष्ट्र समर्पण व विराट योगदान भारत कभी नहीं भुला सकता”।

केंद्रीय गृह मंत्री ने यह भी कहा कि “संविधान एवं सनातन के संतुलन के अद्वितीय प्रतीक सरदार पटेल ने देश के एकीकरण से लेकर सोमनाथ मंदिर के पुनर्निर्माण तक अपने जीवन का क्षण-क्षण भारत में एक राष्ट्र का भाव जागृत करने के लिए अर्पित किया। कृतज्ञ राष्ट्र की ओर से ऐसे महान राष्ट्रभक्त लौह पुरुष सरदार पटेल के चरणों में वंदन”।