रसायन एवं उर्वरक मंत्रालय के रसायन एवं पेट्रोकेमिकल्स विभाग के तहत सार्वजनिक उपक्रम हिंदुस्तान इंसेक्टीसाइड लिमिटेड (एचआईएल) ने वित्त वर्ष 2020-21 की पहली दो तिमाही में निर्यात में रिकॉर्ड वृद्धि हासिल की है। कम्पनी ने बताया कि इस वर्ष अप्रैल से सितंबर के दौरान पिछले वर्ष की इसी अवधि की तुलना में उसके निर्यात में 65 प्रतिशत की रिकॉर्ड वृद्धि हुई है।

कम्पनी ने यह शानदार उपलब्धि डाईक्लोरो फिनाइल ट्राईक्लोरोइथेन (डीडीटी) और एग्रोकेमिकल्स के निर्यात से हासिल की है, जिन्हें दक्षिण अफ्रीकी देशों, लैटिन अमेरिकी देशों और ईरान में भेजा गया है।

रसायन एवं उर्वरक मामलों के केन्द्रीय मंत्री श्री डी.वी. सदानंद गौड़ा ने टीम एचआईएल (इंडिया) लिमिटेड के प्रयासों की सराहना करते हुए कहा है, ‘हिंदुस्तान इंसेक्टीसाइड लिमिटेड (एचआईएल) के प्रबंधन और उनके टीम को इस शानदार उपलब्धि के लिए बधाई, जिन्होंने वित्त वर्ष 2020-21 की पहली दो तिमाही में यह शानदार 65 प्रतिशत वृद्धि हासिल की है। मैं कम्पनी को आगे एक सफल और यादगार वर्ष की शुभकामानाएं देता हूं।’

Image

कम्पनी ने मौजूदा वित्त वर्ष की पहली दो तिमाही में मेलाथियॉन टेक्नीकल का अब तक का सर्वाधिक 530.10 मीट्रिक टन उत्पादन किया है, जो पिछले वर्ष की इसी अवधि में 375.5 मीट्रिक टन था। कम्पनी ने पहली दो तिमाही में उत्पादों की सर्वाधिक बिक्री भी दर्ज की है और रसायनों की यह सारी मात्रा विभिन्न संस्थानों जैसे कृषि मंत्रालय के टिड्डा नियंत्रण कार्यक्रम तथा देशभर के सभी नगर निगमों को वाहक रोग जनित नियंत्रण कार्यक्रम के लिए आपूर्ति की है।