झारखंड सरकार के शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो की हालत गम्भीर बनी हुई है। वह पिछले दिनों कोरोना संक्रमण के चपेट में आ गए थे। इसके बाद से लगातार वह रांची के मेडिका अस्पताल में भर्ती हैं। उनका इलाज कर रहे डॉक्टरों के मुताबिक कोरोना संक्रमण की वजह से जगरनाथ महतो के फेफड़े बुरी तरह डैमेज हो चुके हैं। फेफड़ों के सिर्फ 10 प्रतिशत हिस्सा काम कर रहा है और उनकी स्थिति गंभीर बनी हुई है।

जानकारी के मुताबिक उनके स्वास्थ्य को देखते हुए उन्हें वेंटीलेटर पर रखा गया है। उनके इलाज के लिए गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल और चेन्नई से डॉक्टरों की टीम से भी सलाह ली जा रही है। हालत गंभीर होने की वजह से उन्हें फिलहाल किसी और राज्य में शिफ्ट करना मुमकिन नही है। इसी के बाद यह फैसला लिया गया है कि चेन्नई से एक टीम रांची आकर उनके इलाज में सहयोग देगी। आपको बता दें कि झारखंड सरकार में मंत्री जगरनाथ महतो 28 सितम्बर को कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे।

गौरतलब है कि कोरोना वायरस का प्रकोप पिछले कुछ दिनों में थोड़ा कम जरूर हुआ है लेकिन इस बीमारी से निजात नही मिली है। इससे बचाव में थोड़ी लापरवाही भी भारी पड़ रही है। बेशक पिछले कुछ दिनों में रिकॉर्ड संख्या में मरीज ठीक हुए हैं, नए संक्रमण के मामलों में कमी आई है और मौत के आंकड़े कम हुए हैं लेकिन इसके बावजूद इसके प्रकोप लगातार जारी है। थोड़ी भी लापरवाही जानलेवा साबित हो रही है। ऐसे में लॉकडाउन के बाद धीरे धीरे पटरी पर लौट रहे जनजीवन के बीच सावधानी बहुत जरूरी है।