संसद भवन की नई बिल्डिंग का निर्माण टाटा प्रोजेक्ट्स द्वारा किया जाएगा। टाटा ने लार्सन एंड टुब्रो को पीछे छोड़ते हुए यह कॉन्ट्रेक्ट हासिल किया है। केंद्रीय लोक निर्माण विभाग ने आज बोलियों को खोला जिसके बाद टाटा को यह कॉन्ट्रेक्ट हासिल हुआ। नए संसद भवन के निर्माण में 861.90 करोड़ की कुल लागत आएगी।


आपको बता दें कि केंद्रीय लोक निर्माण विभाग ने जहां नए संसद भवन के निर्माण में 940 करोड़ रुपये खर्च होने का अनुमान जताया था वहीं लार्सन एंड टुब्रो ने 865 करोड़ की बोली लगाई थी। इन बोलियों में टाटा की तरफ से सबसे कम बजट में निर्माण के लिए बोली लगाई गई। जिसके बाद गह कॉन्ट्रेक्ट टाटा प्रोजेक्ट्स को दिया गया है।

आपको बता दें कि नए संसद भवन के निर्माण में एक साल का वक़्त लगने का अनुमान है। संसद की नई बिल्डिंग त्रिकोणाकार डिज़ाइन की होगी। पुरानी संसद ब्रिटिश जमाने मे बनाई गई थी और यह वृत्ताकार आकार में है।