भारत के दबाव के चलते चीन को घुटने टेकने पर मजबूर होना ही पड़ा. आख़िरकार चीन ने मान ही लिया की अरुणाचल से लापता 5 युवक उसकी हिरासत में है और जल्द ही वह उन्हें भारत को सौंप देगा.

केंद्रीय मंत्री किरण रिजुजू ने यह जानकारी ट्विटर के द्वारा शेयर की. उन्होंने लिखा ‘चीन की पीपल्स लिब्रेशन आर्मी ने भारतीय सेना से इस बात की पुष्टि की है कि वह अरुणाचल प्रदेश के युवकों को हमें सौंप देंगे. उन्हें कल 12 सितंबर को किसी भी समय एक निर्दिष्ट स्थान पर सौंपा जा सकता है.’

आपको बतादें की शुरुआत में चीन के विदेश मंत्रालय ने बयान जारी करते हुए इस बात से साफ़ तौर पर इंकार किया था की 5 भारतीय नागरिक उसके कब्ज़े में है. ये मामला सुर्खियों में तब आया जब अरुणाचल प्रदेश से कांग्रेस के विधायक और पूर्व केंद्रीय मंत्री निनॉन्ग ईरिंग ने पिछले हफ्ते केंद्र सरकार को इस मामले की जानकारी दी और तुरंत हस्तक्षेप करने की मांग की.