बिहार में आगामी विधानसभा चुनाव के मद्देनजर जाति से लेकर धर्म तक को साधने की तैयारी में लगे हुए हैं। कहीं रूठे नेताओं को अपने पाले में करने की होड़ है तो कहीं पुराने दल को छोड़ हवा का रुख भांपते हुए नए के संग जुड़ जाने की चाह है। इसी क्रम में जीतन राम मांझी सरीखे नेता जहां महागठबंधन छोड़ जदयू का दामन थाम चुके हैं वहीं श्याम रजक मंत्री पद और जदयू छोड़ राजद के दामन थाम चुके हैं। इस बीच जदयू में कई राजद विधायक शामिल हुए और अब शरद यादव के शामिल होने की अटकलें भी तेज है।


इन सभी ख़बरो के बीच दलों और गठबंधनों के बीच लड़ाई तेज हो गई है। हर कोई दूसरे दल के नेताओं को तोड़ने में लगा है। मुद्दों के जवाब एक नए सवाल के साथ दिए जाने की तैयारी है। इसी क्रम में जहां प्लुरल्स की पुष्पम प्रिया चौधरी रोजगार के मुद्दे अपर सत्ता और विपक्ष को घेरती रही थीं वहीं अब नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने नीतीश सरकार पर निशाना साधा है।

शनिवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर तेजस्वी यादव ने बेरोजगारी पर नीतीश कुमार पर करारा हमला बोला है। तेजस्वी यादव ने बेरोजगारों को रिझाने के लिए बड़ी घोषणा भी की है। उन्होंने बेरोजगारी हटाओ नाम से वेब पोर्टल लांच किया है। साथ ही तेजस्वी यादव ने टोल फ्री नंबर भी जारी किया है।


एक नम्बर 9334302020 जारी करते हुए तेजस्वी ने कहा कि इस नंबर पर कॉल करके कोई भी अपना रजिस्ट्रेशन करवा सकता है। राजद नेता ने यह भी कहा कि अगर राजद की सरकार बन गई तो वह बेरोजगारों को रोजगार मुहैया कराएंगे। तेजस्वी यादव ने कहा कि कैसे रोजगार सृजित वे इस मुद्दे पर लोगों से बात भी कर रहे हैं।