21वीं सदी में जहाँ भारत एक और चाँद और मंगल गृह पर पहुँच गया है वहीं दूसरी ओर देश का एक वर्ग आज भी अन्धविश्वास के घेर में फसकर नरबलि की प्रधा में विश्वास रखता है. इसी अन्धविश्वास के चलते नरबलि का एक और मामला मध्य प्रदेश के सिंगरौली से सामने आया है जहां एक पति ने पत्नी की गर्दन धड़ से अलग कर दी और फिर उससे घर में ही पूजा के कमरे में दफना दिया.

प्राप्त जानकारी के अनुसार, यह घिनोना मामला सिंगरौली जिले के बैढन थाना क्षेत्र के बसौड़ा गांव में सामने आया है. यहाँ रहने वाले ब्रजेश केवट ने अपनी पत्नी की ह्त्या करके सर कुलदेवी को अर्पित कर दिया। बुधवार को जब ब्रजेश ने अपनी पत्नी की हत्या की तो अपनी माँ की चीख सुनकर दोनों बेटे कमरे में पहुंचे और माँ का कटा सर देखकर बेहोश हो गए. जब दोनों होश में आये तो उन्होंने पुलिस को मामले की जानकारी दी.

मामले में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक प्रदीप शेंडे ने बताया की हत्या के बाद ब्रजेश ने लाश को पूजा के कमरे में गाड़ दिया था और फरार हो गया था जिसे पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. पुलिस ने बताया की प्रारंभिक जांच में मामला अन्धविश्वास में हत्या का नज़र आ रहा है.