15 अगस्त को महेंद्र सिंह धोनी के साथ इंटरनेशनल क्रिकेट से संययस लेने वाले सुरेश रैना का आईपीएल खलने यूएई जाना और वहां से फिर अचानक वापस आ जाना विवादों का विषय बन गया। इस बारे में कई बयान और खबरें सामने आई पहले जहाँ निजी कारण को वजह माना गया वहीं बाद में सीएसके प्रबंधन से अनबन की खबरें भी आई थी। हालांकि अब रैना ने इस बारे में खुद स्पष्ट किया है कि वह क्यों वापस आये थे और अब आगे वह जुड़ेंगे या नही?


रैना ने ‘क्रिकबज’ से बातचीत में कहा, ‘यह निजी फैसला था और मुझे अपने परिवार के लिए वापस आना पड़ा। घर पर ऐसी चीज थी, जिसके तुरंत हल निकालने की जरूरत थी। चेन्नई सुपर किंग्स (सीएसके) भी मेरा परिवार है और माही भाई (धोनी) मेरे लिए बहुत महत्वपूर्ण हैं। यह मुश्किल फैसला था।’

उन्होंने कहा, ‘सीएसके और मेरे बीच कोई समस्या नहीं है. कोई भी 12.5 करोड़ रुपये को पीठ नहीं दिखाएगा और किसी जरूरी कारण के बिना नहीं जाएगा। मैंने भले ही अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास ले लिया हो, लेकिन मैं अब भी युवा हूं और मैं आईपीएल में अगले चार-पांच वर्षों तक उनके लिए खेलना चाहता हूं।’ रैना ने सीएसके के मालिक इन श्रीनिवासन के उस बयान पर भी प्रतिक्रिया दी जिसमे उन्होंने कहा था कि कई बार सफलता सर चढ़ जाती है और उन्हें नही पता कि वह क्या खोने वाले हैं।

रैना ने श्रीनिवासन को पिता तुल्य बताया और कहा कि वह ऐसा बोल सकते हैं। इसमें कोई बड़ी बात नही है। इसके अलावा रैना ने कहा कि मैं यहां क्वारंटाइन के दौरान ट्रेनिंग कर रहा हूं हो सकता है कि आप फिर से मुझे वहां शिविर में देखो। रैना के इस बयान को उनकी सीएसके कैम्प में वापसी से जोड़ कर देखा जा रहा है। यह पहली बार है जब आइपीएल छोड़ लौटने वाले रैना ने स्पष्ट तौर पर वापसी को लेकर अपनी बात रखी है।