चीन ने भारत और यहां की सरकार को मद्देनजर रखते हुए एक सर्वे कराया है। अब यही सर्वे उसके गले की फांस बनता नजर आ रहा है। इस सर्वे के नतीजे चीन की सरकार और मीडिया को हैरान करने वाले हैं। पहले इन नतीजों को एक लेख के माध्यम से सार्वजनिक किया गया था लेकिन बाद में हटा लिया गया। हालांकि ग्लोबल टाइम्स के ट्वीट में अब भी यह नतीजे देखे जा सकते हैं। यह सर्वे  बीजिंग, शंघाई, शियान, वुहान, चेंगडू, झेंगझाउ समेत 10 शहरों में कराया गया था। इसमें 1960 प्रतिभागी शामिल थे।


यह सर्वे चीन की सरकार के मुखपत्र अखबार ग्लोबल टाइम्स ने चाइना इंस्टिट्यूट्स ऑफ कंटेंपरेररी इंटरनेशनल रिलेशन्स के साथ मिलकर कराया है। सर्वे में मोदी सरकार से लेकर भारतीय सेना, अर्थव्यवस्था, भारत-चीन संबंध समेत तमाम सवाल किए गए हैं।इस सर्वे में पाया गया कि 51 प्रतिशत लोग मोदी सरकार को पसंद करते हैं, जबकि 90 फीसदी लोग भारत के खिलाफ सैन्य कार्रवाई को सही ठहराते हैं।चीन के 26.4 फीसदी लोग भारत के पड़ोसी देश होने के नाते उसे सबसे पसंदीदा देशों की सूची में चौथे नंबर पर रखते हैं।

जब लोगों से भारत को लेकर अपना पहला इंप्रेशन बताने के लिए कहा गया तो 31 फीसदी ने कहा कि भारतीय महिलाओं का सामाजिक स्तर बहुत नीचा है। उसके बाद 28 फीसदी लोगों ने कहा कि भारत दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी आबादी वाला देश है।सर्वे में पता चला कि 23 फीसदी लोग भारत की पहचान को योग से ही जोड़कर देखते हैं।सर्वे में ये भी बताया गया है कि 25 फीसदी लोग भारत-चीन के संबंधों को लेकर सकारात्मक सोच रखते हैं। इसके अलावा भी सर्वे में कई सारी बातों पर सवाल पूछे गए और लोगों से मिली जुली प्रतिक्रिया मिली।