लालू प्रसाद यादव ने अपने बड़े बेटे तेजप्रताप यादव को रांची बुलाया है। माना जा रहा है कि लालू उनके रघुवंश प्रसाद सिंह पर दिए बयान को लेकर खफा हैं। इसके अलावा एक चर्चा यह भी है कि तेजप्रताप के ससुर और लालू के समधी चंद्रिका राय की जदयू में एंट्री और उनकी बेटी ऐश्वर्या के तेजप्रताप के खिलाफ चुनाव लड़ने की खबरों ने भी राजद और लालू परिवार के लिए मुसीबत बढ़ा दी है। खबरों में यह भी कहा गया है कि तेजप्रताप इस बार महुआ विधानसभा की जगह हसनपुर से चुनाव लड़ सकते हैं और इसी बात पर मुहर लगवाने वह पिता लालू प्रसाद यादव से मिलने पहुंचेंगे। कल उनकी मुलाकात लालू प्रसाद यादव से हो सकती है।


रांची रवाना होने के क्रम में जब तेजप्रताप से उनके हालिया बयानों को लेकर सवाल पूछा गया कि खबरों के अनुसार लालू प्रसाद यादव आपके बयान से नाराज बताए जाते हैं? यह सवाल सुन तेजप्रताप भड़क उठे और जवाब में कहा कि नहीं, नाराज कहां हैं ये सब अफवाह आप लोगों के जरिए उड़ती है। परिवार में आप लोग आग लगाने का काम करते हैं। मीडिया के लोग ऐसा करते हैं।


गौरतलब है कि तेजप्रताप यादव ने अपने हालिया बयानों में कहा था कि रघुवंश प्रसाद सिंह की हैसियत समुद्र में एक लोटे पानी इतनी है और उनके निकल जाने से पार्टी को कोई फर्क नही पड़ेगा। इसी बयान के बाद माना जा रहा है कि रमा सिंह के राजद में आने की बात को लेकर पहले से नाराज रघुवंश प्रसाद सिंह और नाराज हो गए और कल दिल्ली में तेजस्वी यादव से हुई मुलाकात के बाद भी वह इस्तीफा वापस लेने को तैयार नही हुए। खबरें तो यहां तक है कि जल्द ही रघुवंश प्रसाद जदयू के दामन थाम सकते हैं।