लालू प्रसाद यादव के बड़े बेटे तेज प्रताप यादव अपने बयानों की वजह से अक्सर सुर्खियों में रहते हैं। अभी कुछ दिनों पहले जब उनसे उनके ससुर चंद्रिका राय के जदयू में शामिल होने को लेकर मीडिया ने सवाल किया तो इन्होंने इसके जवाब में बेबाक बोलते हुए कहा कि उनकी कोई हैसियत नही है। जदयू को इसका कोई फायदा नही होगा।


इसी क्रम में अब तेज प्रताप यादव का एक और बयान वायरल है। इस बयान में जब उनसे पत्रकारों ने वरिष्ठ नेता रघुवंश प्रसाद सिंह की नाराजगी को लेकर सवाल किया तो अपने ही अंदाज में जवाब देते हुए उन्होंने कहा कि राजद में उनकी हैसियत समुद्र में एक लोटे पानी जैसी है। अगर एक लोटा पानी निकल भी जाएगा तो क्या फर्क पड़ेगा? हालांकि तुरंत उन्होंने यह भी कहा कि रघुवंश बाबू हमारे अभिभावक हैं। उन्हें मना लिया जाएगा। परिवार में रूठना मनाना चलता है। वह मान जाएंगे।


गौरतलब है कि लोजपा के पूर्व सांसद रमा सिंह के राजद में शामिल होने की सूचना के बाद रघुवंश सिंह ने पिछले महीने पार्टी में सभी पदों से इस्तीफा दे दिया था। इस बाबत उन्होंने एक पत्र लिख राजद के राष्ट्रीय अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव को अवगत भी कराया था। लालू ने उनका इस्तीफा अभी तक स्वीकार नही किया है। जब यह चिट्ठी भेजी गई तब वह कोरोना से संक्रमित थे और पटना के एम्स में इलाज करा रहे थे।