बिहार के शिक्षा विभाग के तरफ से एक बड़ी घोषणा अब से कुछ देर पहले की गई है। इस घोषणा के मुताबिक केवल बिहार के निवासी ही राज्य पंचायत शिक्षक भर्ती के लिए आवेदन कर सकते हैं। यह जानकारी समाचार एजेंसी एएनआई ने साझा की है।

गौरतलब है कि बिहार सरकार का यह फैसला ऐसे वक्त में आया है जब हाल ही में मध्यप्रदेश सरकार ने सरकारी नौकरियों में केवल राज्य के युवाओं को प्राथमिकता देने का एलान किया था। इसके बाद से बिहार सरकार से भी ऐसी ही मांग की जा रही थी। हालांकि यह नियम सभी परीक्षाओं पर फिलहाल लागू नही होगा और इस बात की कोई जानकारी सामने नही आई है लेकिन इतना तय है कि आने वाले दिनों में केवल बिहार के निवासियों के लिए प्राथमिकता देने की घोषणा की जा सकती है।