कोरोना महामारी जब इस साल के शुरुआत में चीन से शुरू होकर पूरी दुनिया मे फैली और जैसे-जैसे यह स्पष्ट होने लगा कि यह बीमारी एक दूसरे से संक्रमण के द्वारा फैलती है वैसे वैसे एक चिंता लोगों के मन मस्तिष्क में छाने लगी कि अब अभिवादन के क्या तरीके अपनाए जाएंगे? हाथ मिलाना और गले मिलना इस बीमारी के काल मे दूभर से हो गया ऐसे में याद आई सदियों पुरानी भारतीय परंपरा, यह परंपरा थी हाथ जोड़ कर नमस्ते करने की।

इसी क्रम में सोशल मीडिया पर एक वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है। ऑल इंडिया रेडियो ने यह वीडियो शेयर किया है। इस वीडियो में फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों जर्मन चांसलर एंजेला मर्केल को ‘नमस्ते’ करते हुए नजर आ रहे हैं।

फ्रांस के राष्ट्रपति के नमस्ते के जवाब में एंजेला मर्केल ने भी भारतीय परंपरा के साथ उनका नमस्ते से ही अभिवादन किया। बता दें कि इससे पहले राष्ट्रपति मैक्रों इस साल मार्च में स्पेन के राजा रानी से हाथ जोड़कर नमस्ते करते हुए ही मिले थे। यह कोई पहला मौका नही जब किसी राष्ट्राध्यक्ष ने ऐसे नमस्ते कर अभिवादन किया है। 

इससे पहले प्रिंस चार्ल्स जब लंदन के मार्लबोरो हाउस पहुंचे थे तो उन्होंने अपने सभी गेस्ट्स का नमस्ते करके ही स्वागत किया था। जबकि, इससे पहले वहां हमेशा हाथ मिलाकर ही लोगों का स्वागत किया जाता था।इनके अलावा नीदरलैंड के राजा विलियम अलेक्जेंडर भी जकार्ता पहुंचे थे तो उन्होंने हाथ जोड़कर ही वहां मौजूद नेताओं का अभिवादन किया था।