JDU और नीतीश कुमार को लेकर LJP के राष्ट्रीय अध्यक्ष चिराग पासवान के तेवर में कोई नरमी नहीं आई है. सोमवार को उन्होंने पार्टी पदाधिकारियों की बैठक में स्पष्ट कर दिया कि वे आगे भी राज्यहित के मुद्दे उठाते रहेंगे, अब इसे कोई आलोचना समझ ले तो उन्हें कुछ नहीं कहना. चिराग के इस तेवर के बाद पार्टी के दूसरे नेता भी नीतीश कुमार और उनके मंत्रियों पर हमलावर हो गए हैं.

चिराग पासवान ने सोमवार को वर्चुअल माध्यम से प्रदेश कार्यकारिणी की बैठक बुलाई. इसमें पार्टी के सभी एमपी, एमएलए सहित जिलाध्यक्ष, प्रदेश पदाधिकारी और प्रकोष्ठों के अध्यक्ष मौजूद रहे. इस बैठक में चिराग एक बार फिर राज्य सरकार पर हमलावर दिखे. उन्होंने बैठक में कोरोना जांच में बरती जा रही लापरवाही का जिक्र किया. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री ने बिहार में टेस्टिंग बढ़ाने की बात कही थी, लेकिन आज भी बिहार में आरटीपीसीआर टेस्ट काफी कम हो रहे हैं. उन्होंने बैठक में ये भी कहा कि जब हमने प्रधानमंत्री की बात दोहराई तो मुझ पर ही हमले शुरू हो गए. चिराग ने बैठक में यहां तक कहा कि जेडीयू ने मेरा नहीं प्रधानमंत्री का अपमान किया है.