LAC को लेकर भारत और चीन के बीच पिछले काफी समय से अच्छा ख़ासा विवाद चलता आ रहा है और दोनों देशो की सेना के बीच भी लगातार झड़पे होती रही है. मगर इसी के बीच एक खबर आ रही है की दोनों देशो की सेना युद्धाभ्यास में एक साथ भाग लेंगी. सितबंर के महीने में रूस में होने वाली मल्टीनेशनल एक्सरसाइज, ‘कवकाज़-2020’ में दोनों देशों की सेना हिस्सा लेने जा रही है. ख़ास बात ये है की इस युद्धाभ्यास के लिए रूस ने पाकिस्तान को भी न्योता भेजा है.

ये एक्सरसाइज सितम्बर महीने की 15-26 तारीख के बीच रूस के कवकाज़ इलाके में होगी. पिछले 2 सालों से लगातार रूस इस सैन्य अभ्यास के लिए शंघाई कारपोरेशन आर्गेनाइजेशन के देशो की सेनाओं को बुलाता रहा है. सूत्रों के अनुसार भारत की तीनों सेनाओ की टुकड़ी इस युद्धाभ्यास में भाग लेंगी. ये सैन्य अभ्यास ऐसे समय पर हो रहा है जब भारत और चीन के बीच पिछले 100 दिनों से सीमा पर विवाद चल रहा है. गलवान घाटी में तो हिंसक झड़प भी हो चुकी है. दूसरी ओर पाकिस्तान के साथ भी सीमा पर लगातार संगर्ष जारी है.

कोरोना महामारी के बाद यह पहली बार है जब भारत की सेना किसी दूसरे देश में युद्धाभ्यास में हिस्सा लेने जा रही है.