रक्षामंत्री का अहम ऐलान, रक्षा क्षेत्र के 101 उपकरणों के आयात पर प्रतिबंध

मंत्रालय ने 101 रक्षा उपकरणों की एक सूची तैयार की है जिनके आयात पर रोक लगाई जाएगी और यह उपकरण अब भारत के अंदर ही तैयार किये जाएंगे।

केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने आज कुछ अहम ऐलान किए। एक के बाद एक ट्वीट कर रक्षा मंत्री ने कई अहम जानकारियां साझा की, अपने पहले ट्वीट में रक्षामंत्री ने कहा कि रक्षा मंत्रालय अब आत्मनिर्भर भारत की पहल को आगे बढ़ाने के लिए तैयार है। मंत्रालय ने 101 रक्षा उपकरणों की एक सूची तैयार की है जिनके आयात पर रोक लगाई जाएगी और यह उपकरण अब भारत के अंदर ही तैयार किये जाएंगे। उन्होंने यह भी लिखा कि रक्षा क्षेत्र में भारत की आत्मनिर्भरता की दिशा में यह बड़ा कदम उठाया गया है। इस सूची में आर्म्ड फाइटिंग व्हीकल्स भी शामिल हैं।

इस उपकरणों के बारे में जानकारी साझा करते हुए उन्होंने एक के बाद एक ट्वीट करते हुए कई बातें कहीं। रक्षामंत्री ने कहा कि इस लिस्ट में न केवल कुछ पार्ट्स बल्कि उच्च प्रौद्योगिकी वाले हथियार जैसे असॉल्ट राइफल्स,सोनार सिस्टम,ट्रांसपोर्ट एयरक्राफ्ट, राडार,एलसीएच सहित कई अन्य चीजें शामिल हैं। इस फैसले की जानकारी देते हुए उन्होंने यह भी कहा कि सभी स्टेक होल्डर्स से इस मुद्दे पर विचार करने के बाद आयात पर रोक लगाई जाएगी। इस फैसले के लागू होने की समयसीमा के बारे में उन्होंने बताया कि 2020 से 2024 के बीच लागू किये जाएंगे।

राजनाथ सिंह ने बताया कि तीनों सेनाओं ने 260 योजनाओं के तहत इन सामानों का अप्रैल 2015 से अगस्त 2020 के बीच 3.5 लाख करोड़ रुपए का ठेका दिया। उन्होंने कहा कि अनुमान है कि अगले 6-7 साल में घरेलू उद्योग को करीब 4 लाख करोड़ रुपए के ठेके मिलेंगे।  उन्होंने  आगे कहा हमारा उद्देश्य सशस्त्र बलों की आवश्यकताओं के मामले में रक्षा उद्योग को आगे बढ़ाना है ताकि स्वदेशीकरण के लक्ष्य को प्राप्त किया जा सके।’ उनके इस एलान से पहले रक्षा मंत्रालय के कार्यालय ने ट्वीट किया, ‘रक्षा मंत्री श्री राजनाथ सिंह आज 10:00 बजे महत्वपूर्ण ऐलान करेंगे।’ 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *