यूपी में बीजेपी विधायक कृष्णानंद राय हत्याकांड में शामिल रहे आरोपी राकेश पांडे को आज यूपी पुलिस ने एक एनकाउंटर में मार गया। यह एनकाउंटर लखनऊ के सरोजनीनगर में हुआ। यूपी एसटीएफ के आईजी अमिताभ यश ने इस बारे में जानकारी देते हुए बताया की आज हुए एक एनकाउंटर में राकेश पांडेय को मार गिराया गया। वह मुख्तार अंसारी और मुन्ना बजरंगी का करीबी था। पुलिस को सूचना मिली थी कि राकेश पांडेय इसी इलाके में साथियों के साथ छुपा बैठा है। इसी के बाद पुलिस की कार्रवाई शुरू हुई। पुलिस को देखते ही राकेश ने फायरिंग शुरू की जिसके बाद हुई कार्रवाई में वह ढेर हो गया।

आपको बता दें कि राकेश पांडेय उर्फ हनुमान पांडेय मऊ जिले के कोपगंज का रहने वाला था। विद्यायक हत्याकांड में वह आरोपी रहा था। इसके अलावा बागपत जेल में मुन्ना बजरंगी के मारे जाने के बाद से वह मुख्तार का खास शूटर बन गया था। उसके ऊपर एक लाख का इनाम घोषित था।एनकाउंटर में मारे गए इनामी बदमाश राकेश पांडेय का लंबा आपराधिक इतिहास रहा है। राजधानी लखनऊ सहित गाजीपुर, मऊ, रायबरेली में 10 मुकदमे गंभीर धाराओं में पंजीकृत हैं। वह ठेकेदार अजय प्रकाश सिंह उर्फ मन्ना सिंह हत्याकांड में भी मुख्तार अंसारी के साथ सह आरोपी था।

गाजीपुर के मोहम्मदाबाद से बीजेपी विधायक कृष्णानंद राय की हत्या नवंबर, वर्ष 2005 में हुई थी। एके-47 से लैस आधा दर्जन हमलावरों ने विधायक के काफिले को घेरकर 400 राउंड से भी अधिक गोलियां बरसाई थीं, इस दौरान कृष्णानंद सहित 7 लोगों की मौत हो गई थी।