केरल के इडुक्की जिले में तीन दिनों से लगातार बारिश के बाद भीषण भूस्खलन में 12 लोगों की मौत हो गई तो 60 अन्य के मलबे में फंसे होने की आशंका है। राजाक्कड़ के चाय बागानों में काम करने वाले मजदूरों की बस्ती भूस्खलन की चपेट में आ गई है। इस हादसे में कई श्रमिक लापता है। मौके पर राहत कार्य चल रहा है।  वहीं दस को रेस्क्यू ऑपरेशन के दौरान जिंदा निकाला गया है। इलाके में हड़कंप मचा है। राहत कार्य के लिए कई टीमें लगाई गई हैं। 

घटनास्थल पर मौजूद अधिकारीयों ने बताया कि, भारी बारिश और धुंध की वजह से बचाव कार्य में दिक्कत आ रही है।  इस दुर्घटना के बारे में तब जानकारी मिली जब सुबह एक मजदूर किसी तरह बाहर निकलकर आया और इराविकुलम नेशनल पार्क के फॉरेस्ट अधिकारियों को जानकारी दी।   

राज्य के राजस्व अधिकारी ई चंद्रशेखरन ने कहा, ”यह बहुत बड़ा हादसा है। यह पहाड़ा इलाका है और मूसलाधार बारिश में कई सड़कें बह गई हैं। घायलों को एयरलिफ्ट करने के लिए हमने एयर फोर्स की मदद मांगी है।