Advertisements

दिल्ली में कोरोना के बढ़ते संकट और उससे भी तेजी से बढ़ती राजनीति के बीच दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने आज एक बड़ा बयान दिया है. इस बयान में उन्होंने यह माना है कि राष्ट्रीय राजधानी में कोरोना वायरस कम्युनिटी स्प्रेड के फेज में पहुँच चुका है. इस बयान के लिए उन्होंने एम्स के डायरेक्टर रणदीप गुलेरिया के बयान को आधार बनाया है. हालाँकि उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार ही इसका ऐलान कर सकती है.

दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने मंगलवार को कहा कि राज्य सरकार ने जो दिल्ली के अस्पतालों को लेकर फैसला किया था, उसे LG साहब ने खत्म कर दिया है ऐसे में अब दिल्ली वालों का इलाज कहां होगा. दिल्ली में पूरी दुनिया से फ्लाइट यहां आई हैं, ऐसे में यहां केस बढ़ रहे हैं. फैसले पर सवाल खड़े करते हुए कहा कि अब अगर दिल्ली में बाहर से लोग आएंगे तो राज्य के लोगों का इलाज कहां होगा. केंद्र सरकार के जो 10 हजार बेड हैं, उनमें इलाज करवा लें.

गौरतलब है कि राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में कोरोना का कहर दिन प्रतिदिन बढ़ता जा रहा है. मौत के आंकड़े से लेकर अस्पतालों की व्यवस्था और संक्रमितों की बढ़ती संख्या ने चिंता और बढ़ा दी है.इसके अलावा एलजी द्वारा केजरीवाल सरकार के “दिल्ली के अस्पतालों में दिल्लीवालों का इलाज” सम्बन्धी फैसला पलटने के बाद राजनीतिक आरोप-प्रत्यारोप और तेज होने की संभावना है. बता दें कि दिल्ली में पिछले एक हफ्ते से रोज़ ही एक हजार से अधिक मामले सामने आ रहे हैं, ऐसे में चिंता बढ़ती जा रही है. दिल्ली में मंगलवार सुबह तक कुल कोरोना वायरस के मामले 29943 हैं, जबकि 874 लोगों की मौत हो चुकी है.